मुंह के स्वास्थ्य का ख्याल कैसे रखें | Best oral health care in hindi

मौखिक स्वास्थ्य का ख्याल रखने के लिए आहार (Best tips for oral health care in hindi)

मुंह का स्वास्थ्य oral health पूरे शरीर को प्रभावित कर सकता है। शरीर मे होने वाली बीमारियां मुंह से ही शुरू होती है। इस लेख में कुछ ऐसे खाद्य पदार्थो (Diet for oral health care in hindi) के बारे में जानेंगे जिनका नियमित सेवन करने से ओरल हेल्थ (oral health) को बेहतर बनाने में मदद मिलती है। तथा मुंह के स्वास्थ्य के लिए क्या खाएं व दिनचर्या में क्या बदलाव लाने की जरूरत है और मौखिक स्वच्छता के उपाय क्या है आइए जानते हैं मुंह के स्वास्थ्य का ख्याल कैसे रखें Best oral health care in hindi

मौखिक समस्या क्या है (what is oral problems in hindi)

मुंह हमारे शरीर का मुख्य अंग होता है हम जो भी भोजन करते हैं वो सबसे पहले मुंह मे ही जाता है। मुंह के स्वास्थ्य (oral health) को अधिकतर लोग उतना महत्व नहीं देते हैं जितना देना चाहिए।

मौखिक स्वास्थ्य (oral health care in hindi) का ठीक से ख़्याल नही करना, इसको गंभीर बीमारियों के जोखिम में डाल सकता है। क्योंकि हमारे मुंह में एक समय में 6 अरब से अधिक सूक्ष्मजीव होते हैं। इनमें से कुछ अच्छे और कुछ खराब भी होते हैं।

यह सूक्ष्मजीव हमारे मुंह में बचे हुए तथा दांतो में फसे हुए भोजन पर हमला करते हैं। इन्ही खराब जीवों के कारण मुंह के रोग जैसे प्लाक, टार्टर, मुंह व सांसों की बदबू, मसूड़ों के रोग व सूजन, दांतो में कीड़ा आदि समस्याएं पैदा होती हैं।

इसलिए कुछ मुख्य खाद्य पदार्थों को अपने नियमित खानपान में शामिल करना और कुछ सावधानियां रखना ओरल हेल्थ केयर (oral health care in hindi) के लिए लाभदायक होता है। तथा इनके नियमित सेवन से शरीर भी स्वस्थ और हेल्दी रहता है।

मुंह स्वस्थ रखने वाले आहार (Foods for oral health care in hindi)

फल व सब्जियों का सेवन

ओरल हेल्थ या मौखिक स्वच्छता के लिए फल और सब्जियां बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। फल और सब्जियों को चबाने से दांतों से प्लाक हट जाता है तथा मुंह को साफ करने वाली लार के उत्पादन में भी वृद्धि की जा सकती है। अपने नियमित आहार में अलग अलग रंगों के फल और सब्जियों को शामिल करने से स्वस्थ दांत व मसूड़ों के साथ साथ मुंह के स्वास्थ्य को हेल्दी रखने में भी मदद मिलती है।

इसलिए नियमित दिनभर में दो सौ से तीन सौ ग्राम तक फल और सब्जियों को चबाकर खाना मौखिक स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है।

नारियल पानी व ग्रीन टी का सेवन

कच्चा नारियल तथा नारियल पानी का सेवन मुंह को स्वस्थ रखने में बहुत मददगार होता है। चाय तथा कॉफी दोनों का सेवन ही ओरल हेल्थ के लिए नुकसानदायक माना जाता है। यह दोनों ही पेय पदार्थ दांतो को दागदार और कमजोर बनाते हैं। यह दांतो के बाहरी आवरण को भी कमजोर करते में मुख्य भूमिका निभाते हैं तथा दांतों को क्षति भी पहुंचाते हैं।

इसलिए ग्रीन टी और नारियल पानी जैसे पेय पदार्थों का नियमित सेवन करने से दांतो के आवरण की रक्षा करने और इनको स्वस्थ रखने के साथ-साथ मुंह का स्वाद भी बेहतर रखते है। इसके लिए दिनभर दो सौ से तीन सौ मिलीलीटर नारियल पानी और ग्रीन टी का सेवन अवश्य करना चाहिए। इसके अलावा कच्चा नारियल चबाकर खाने से भी दांत और मसूड़े मजबूत होती है और मौखिक स्वास्थ्य बेहतर रहता है।

डेयरी उत्पादों का सेवन

दूध व पनीर जैसे डेयरी उत्पाद शरीर को हेल्दी रखने के लिए फायदेमंद होने के साथ-साथ मौखिक स्वच्छता (oral health) के लिए भी लाभदायक होते हैं। दूध में मौजूद खनिज और प्रोटीन दांतों के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है क्योंकि यह दांतो को मजबूत बनाने में भी मददगार होता है।

दूध, दही, पनीर तथा अन्य डेयरी उत्पादों में भी भरपूर मात्रा में कैल्शियम, मैग्नीशियम, खनिज तथा प्रोटीन पाया जाता है। यह उत्पाद मुंह का स्वाद बढ़ाने के साथ साथ मुंह मे लार का उत्पादन बढ़ाने में भी मददगार होते हैं। इनसे मुंह के स्वास्थ्य को भी बेहतर किया जा सकता है। इसलिए दिनभर तीन सौ मिलीलीटर दूध तथा सौ मिलीलीटर दही पनीर या अन्य डेयरी उत्पाद का सेवन जरूर करना चाहिए।

ड्राईफ्रूट्स का सेवन

सूखे मेवे या नट्स का प्रयोग करना बैक्टीरिया से लड़ने में मददगार होता हैं जो कैविटी व मसूड़ों की बीमारियों का कारण बनते हैं। इसके अलावा रात को पानी में भिगोकर रखे हुए ड्राई फ्रूट्स का सुबह नियमित चबाकर सेवन करने से मुंह का स्वास्थ्य बेहतर रहता है। तथा इसके साथ ही यह शरीर को हल्दी व निरोगी रखने में भी मददगार होते हैं।

सूखे मेवों का नियमित सेवन करने से दांतों व मसूड़ों को मजबूत करने के साथ-साथ मुंह का स्वाद भी बेहतर किया जा सकता है। इसलिए इनका रोज सुबह सेवन करने के अलावा दिन में भी ड्राईफ्रूट्स का सेवन करना मुंह का ख़्याल रखने के साथ बॉडी को हेल्दी रखने में भी फायदेमंद होता है। ड्राईफ्रूट्स खाने के फायदे जानने के लिए यह पढ़ें

डार्क चॉकलेट का सेवन

डार्क चॉकलेट का सेवन कैविटी से बचाने के साथ-साथ बैक्टीरिया से लड़ने में भी यह मददगार होती है। डार्क चॉकलेट में एंटीऑक्सीडेंट्स गुण भरपूर मात्रा में होते है। इसलिए इसे एक सुपर फूड भी कहा जाता है। यह मुंह में पैदा होने वाले खराब सूक्ष्मजीवों से लड़ने में भी मददगार होती है जो कैविटी, प्लाक, दांतों की सड़न, मसूड़ों की समस्या आदि का कारण बनते हैं।

डार्क चॉकलेट मसूड़ों के स्वास्थ्य में भी सुधार करती है। इसलिए दिन भर में अधिकतम 10 से 15 ग्राम डार्क चॉकलेट का सेवन करना मौखिक स्वास्थ्य का ख्याल (oral health care in hindi) रखने में मददगार हो सकता है।

अदरक का सेवन

अदरक में पाये जाने वाले औषधीय गुण हमारे मौखिक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। अदरक का सेवन पूरे शरीर के स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक होता है। अदरक का सेवन मुंह को हेल्दी रखने के साथ-साथ पाचन तंत्र मजबूत करने व आंतों के स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद होता है। क्योंकि अदरक भूख बढ़ाती है। तथा संक्रमण से भी बचाने में अदरक बहुत फायदेमंद मानी जाती है।

अदरक का सेवन सब्जी व चाय में करने के साथ-साथ कच्ची अदरक को चबाकर खाना भी मौखिक स्वच्छता (oral health care) के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसलिए दिनभर में कम से कम 5 ग्राम अदरक का सेवन अवश्य करना चाहिए।

मुंह को स्वस्थ रखने के लिए सावधानियां (Precautions for oral health care in hindi)

मुंह में होने वाली समस्याओं से बचे रहने या oral health care in hindi के लिए खानपान के साथ दैनिक जीवन की कुछ आदतों में बदलाव व सावधानियां रखना भी जरूरी होता है जैसे

  • कुछ भी खाने या पीने के बाद कुल्ला अवश्य करना चाहिए क्योंकि खाद्य या पेय पदार्थों के कुछ कण मुंह में रह जाते हैं जो मुंह के लिए नुकसानदेह होते हैं।
  • नियमित दिन में दो बार सुबह शाम दो-दो मिनट ब्रश करने के साथ साथ दिन में एक बार फ्लॉसिंग जरूर करें।
  • हर छह महीने के बाद अपना डेंटल चेकअप अवश्य करवाना चाहिए।
  • डिहाइड्रेशन शरीर के साथ-साथ ओरल हेल्थ (मौखिक स्वास्थ्य) के लिए भी उतना ही नुकसानदायक होता है इसलिए दिनभर में कम से कम 3 स 5 लीटर पानी अवश्य पीना चाहिए।
  • अपनी नियमित डाइट में जितना हो सके कम चीनी या शक्कर युक्त खाद्य या पेय पदार्थों का सेवन करना चाहिए।
  • धूम्रपान, एल्कोहल जैसे पदार्थों का सेवन करने से बचना चाहिए।

FAQ : मौखिक स्वच्छता के बारे में पूछे जाने वाले सवाल 

Q 1. मुंह को स्वस्थ रखने के लिए क्या करें?

Ans  मौखिक स्वच्छता के लिए नियमित भोजन में कुछ चीजों को शामिल करने के साथ साथ कुछ आदतों में भी बदलाव किया जाना जरूरी होता है। ऊपर बताये गए अनुसार ओरल हेल्थ केयर की जा सकती है।

Q 2. मौखिक स्वच्छता कैसे रखें?

Ans मुख को स्वस्थ रखने के लिए दिनभर पर्याप्त मात्रा में पानी पीना चाहिए। कुछ भी खाने या पीने के बाद कुल्ला करने की आदत डालें। सुबह और रात को सोने से पहले अच्छे से ब्रश करें। अधिक मीठा, धूम्रपान या तम्बाकू आदि का सेवन करने से बचना चाहिए।

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में हमने जाना मौखिक स्वच्छता क्या है मौखिक स्वास्थ्य का ख्याल रखने के लिए क्या खाये और ओरल हेल्थ केयर (oral health care in hindi) के लिए घरेलू उपचार कौन कौन से है। तथा मुंह में होने वाली समस्याओं से बचने के लिए सावधानियां क्या है।

इस आर्टिकल मुंह के स्वास्थ्य का ख्याल कैसे रखें (Best oral health care in hindi) के बारे में आपके कोई सुझाव या सवाल हो तो Comment बॉक्स में अवश्य लिखें तथा पोस्ट को शेयर भी करें।

इन्हें भी पढें-

Share This Product

Leave a Comment