मांसपेशियों की कमजोरी और खिंचाव कैसे दूर करें | Maspeshiya weakness

क्यों होती है मांसपेशियां कमजोर जानें कारण और घरेलू उपाय : Maspeshiya majboot kaise kare

मांसपेशियों में कमजोरी, खिंचाव, तनाव, Maspeshiya में दर्द यानि Muscle pain जैसी समस्याएं एक आम समस्या है। कई बार मांसपेशियों में खिंचाव आने या वर्कआउट वगैरा करने से Maspeshiya कमजोर होती है तथा कुछ देर तक रेस्ट करने के बाद फिर से ठीक हो जाती है। लेकिन मांसपेशियों की कमजोरी दूर करने के लिए कुछ घरेलू नुस्खे व उपाय करना काफी मददगार हो सकता है।

आज के इस लेख में हम आपको मांसपेशियों की कमजोरी (Maspeshiya weakness) दूर करने के उपाय, मांसपेशियों में तनाव, खिंचाव (Muscle strain), कमजोरी के कारण के बारे में बताएंगे, इसलिए यह लेख आपके लिए काफी मददगार साबित हो सकता है। लेख को पूरा जरूर पढ़ें जानिए Maspeshiya majboot kaise kare

maspeshiya muscle pain hindi

Highlight

मांसपेशियों की कमजोरी दूर करने के उपाय

क्या खाने से मांसपेशियों की कमजोरी दूर होती है

मांसपेशियों की कमजोरी दूर करने के लिए तेल

मांसपेशियों की कमजोरी दूर करने के लिए व्यायाम

मांसपेशियों की कमजोरी दूर करने के लिए घरेलू टिप्स

मांसपेशियों की कमजोरी के कारण : Maspeshiya kamjor hone ke karan

कई बार हमारे शरीर की मांसपेशियों में खिंचाव होने के कारण हमें बहुत तेज दर्द महसूस होता हैं। इसके अलावा मांसपेशियों में खिंचाव होने पर कई बार अंगों में सूजन भी आ जाती हैं। इस समस्या कारण तंत्रिकाएं (नर्व्स) हो सकती हैं। तंत्रिकाएं हमारे शरीर का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा हैं क्योंकि इन्हीं के माध्यम से रक्त शरीर के सभी हिस्सों तक पहुंचता हैं।

बहुत से लोगों को सुबह के वक्त कमर और पैर में जकड़न पड़ जाती है और असहनीय दर्द भी होता हैं। लेकिन आयुर्वेद में बताए गए कुछ घरेलू नुस्खे व उपाय नियमित तौर पर किए जाए तो इस समस्या से हमेशा के लिए छुटकारा पाया जा सकता हैं। तो आइए जानते हैं।

मांसपेशियों की कमजोरी दूर करने के लिए क्या खाएं : Maspeshiya majboot karne ke liye kya khaye

दूध का सेवन

दूध में भरपूर मात्रा में कैल्शियम के साथ-साथ बहुत से पोषक तत्व भी मौजूद होते हैं। दूध पीने से बॉडी हाइड्रेट्स रहने के साथ-साथ मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करने में भी मदद मिलती है।

दूध में एक चम्मच तिल के बीज या पाउडर और एक चम्मच देसी घी या शहद डालकर थोड़ा सा मुलेठी पाउडर डाल लें तथा अच्छे से मिलाकर इस मिश्रण को दिन में दो बार पीने से मांसपेशियां स्वस्थ रहती है।

विटामिन डी युक्त आहार

शरीर में विटामिन डी की कमी होने के कारण मांसपेशियों में दर्द, खिंचाव जैसी समस्या होना आम बात होती है। इसलिए शरीर में विटामिन डी की पूर्ति करना आवश्यक होता है और विटामिन डी की पूर्ति के लिए सुबह के समय उगते हुए सूरज के सामने धूप में कपड़े उतारकर बैठना चाहिए।

इसके अलावा बहुत से ऐसे फूड्स भी है जिनको अपनी डाइट में शामिल करके विटामिन डी की कमी को आसानी से दूर किया जा सकता है।

आंवला का सेवन

आंवला पोषक तत्वों का भंडार होता है इसमें आयरन, कैल्शियम, विटामिन बी, प्रोटीन जैसे बहुत से तत्व मौजूद होते हैं तथा यह सभी तत्व मांसपेशियों को मजबूती देने में मददगार होते हैं। आंवला प्राकृतिक एनाल्जेसिक का भी स्रोत है इसलिए यह मांसपेशियों में होने वाले खिंचाव व दर्द से छुटकारा दिलाने में सहायक है।

पौष्टिक आहार

मांसपेशियों की कमजोरी दूर करके मजबूती प्रदान करने के लिए अपनी डाइट में उचित मात्रा में विटामिन ई व खनिज से भरपूर पदार्थों का सेवन करना चाहिए। संतुलित आहार से मांसपेशियों को मजबूती मिलने व स्वस्थ रखने में काफी मददगार है।

साथ में पौष्टिक आहार से शरीर भी स्वस्थ व मजबूत बनता है। पौष्टिक भोजन करने से बॉडी में होने वाली किसी प्रकार के तत्वों की कमी को दूर करने में मददगार है।

अंकुरित अनाज व दालों का सेवन

अपने नियमित आहार में पोषक तत्वों युक्त आहार का सेवन करने से शरीर को ऊर्जा की प्राप्ति होने के साथ-साथ मांसपेशियों का उचित फैलाव होने व कमजोरी भी दूर होती है।

इसके लिए हमेशा विटामिन ए ,विटामिन B2, प्रोटीन, कैल्शियम और फोलिक एसिड से भरपूर दालों या अंकुरित अनाज का सेवन करना चाहिए क्योंकि यह सभी तत्व मांसपेशियों के लिए उपयोगी होते हैं।

मांसपेशियों का दर्द दूर करने के लिए तेल : Maspeshiya majboot karne ka tel

अलग-अलग तरह के तेल से मसाज करने से रक्त संचार सुचारू रूप से होता है तथा मांसपेशियों से गैप  व तनाव कम होता है। इसलिए मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करने के लिए कौनसे तेल अधिक लाभकारी सिद्ध होते हैं।

  • सरसों का तेल

अगर आपको सुबह के समय पैरों में जकड़न होती है यानी पैरों की मांसपेशियों में खिंचाव के कारण दर्द महसूस होता हैं तो आपको नियमित रूप से स्नान करने से पहले हल्की धूप में बैठ कर सरसों के तेल से पैरों की मालिस करनी चाहिए।

इससे पैरों में होने वाले मांसपेशियों में खिंचाव की समस्या जल्द ही दूर होगी। इसके अलावा सरसों के तेल से शरीर के अन्य हिस्सों पर भी मसाज करना काफी लाभदायक सिद्ध होता है।

  • ारियल का तेल

नारियल का तेल हमारे शरीर के लिए बहुत ही लाभदायक होता है। शरीर में जकड़न होने पर या शरीर के किसी अंग में मांसपेशियों में खिंचाव के कारण सूजन आ जाए तो नियमित रूप से नारियल के तेल से पूरे शरीर की मसाज करें और कुछ दिनों तक नारियल के तेल में बनी सब्जी का सेवन करें या सूखा नारियल, नारियल पानी का सेवन करें। इस उपाय से शरीर में होने वाली जकड़न की समस्या कभी नहीं होगी।

  • अरंडी का तेल

आयुर्वेद में बताए गए नुस्खे 100 प्रतिशत शरीर को लाभ पँहुचाते हैं और आयुर्वेद विभिन्न प्रकार की जड़ी बूटियों पर आधारित होता हैं जिसके कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होते हैं। आयुर्वेद में ऐसे ही एक पौधे के बारे में बताया गया हैं जिसका नाम हैं अरण्डी,

इस पौधे से निकलने वाला तेल हमारे शरीर के लिए अत्यंत लाभकारी होता हैं। अगर शरीर के किसी हिस्से में सूजन हो तो अरण्डी के तेल से मालिस करने पर सूजन कुछ देर में कम होने लग जाती हैं तथा दर्द से छुटकारा मिलता है। इस तेल की लगातार कुछ दिन मसाज करने से मांसपेशियां स्वस्थ व मजबूत होती है।

maspeshiya muscle pain hindi

मांसपेशियों की कमजोरी दूर करने के लिए एक्सरसाइज : Maspeshiya ki kamjori dur karne ke liye exercise

रोजाना व्यायाम, एक्सरसाइज, मॉर्निंग वॉक, स्विमिंग, साइक्लिंग, दौड़ लगाने जैसी किसी भी प्रकार की गतिविधियों को 35 से 40 मिनट तक करने से मांसपेशियां मजबूत होती है और शरीर में नई ऊर्जा का संचार होता है तथा ब्लड सरकुलेशन सुचारू रूप से चलता है।

इसलिए सबसे पहले तो सुबह मॉर्निंग वॉक करने की आदत जरूर डालें। उसके बाद दिन भर में अगर किसी भी प्रकार की शारीरिक एक्टिविज करते हैं तो लंबे समय तक स्वस्थ रहने और मांसपेशियों को स्वस्थ रखने के काफी मदद मिलती है।

मांसपेशियों की कमजोरी दूर करने के लिए घरेलू टिप्स : Maspeshiya majboot karne ke tips

अक्सर कई हम ध्यान नहीं देते और जिसके कारण कोई झटका लगना या किसी तरह का दबाव आने से मांसपेशियों में सूजन जकड़न या दर्द होने लगता है। इसलिए कुछ सावधानियां रखने की आवश्यकता होती है।

  • सुबह के समय कुछ कदम आराम से टहलना जरूर चाहिए।
  • किसी भी प्रकार की शारीरिक गतिविधियां शुरू करने से पूर्व वार्म अप जरूर करें।
  • नियमित भरपूर नींद जरूर लें क्योंकि नींद से बॉडी और मांसपेशियों को आराम मिलता है।

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने जाना मांसपेशियां की कमजोरी, जकड़न, सूजन क्यों होती है तथा मांसपेशियों की कमजोरी दूर करने के लिए घरेलू उपाय, मांसपेशियों की मजबूती के लिए क्या खाएं व कौन-कौन से तेल लगाने से Maspeshiya मजबूत होती है। इस लेख के बारे में आपके कोई भी सवाल या सुझाव हो तो कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं।

यह आर्टिकल Maspeshiya की कमजोरी कैसे दूर करें Muscle pain in hindi आपको कैसा लगा कॉमेंट में जरूर बताएं तथा लेख को अपने परिवार के लोगों व दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूलें।

-: लेख को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद :-

इसे भी पढ़ें

Share This Product

Leave a Comment