Khamira marwareed ke fayde उपयोग और इस्तेमाल कैसे करें | संपूर्ण जानकारी

Share This Product On

Khamira marwareed khas ke fayde

खमीरा के फायदे और उपयोग कैसे करें : Khamira marwareed benefits in hindi

प्राचीन समय से ही खमीरा का सेवन शारीरिक कमजोरी दूर करने के लिए किया जाता रहा है लेकिन खमीरा Khamira marwareed दुर्बलता दूर करने के साथ-साथ अनेक स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से बचाए रखने में भी उपयोगी होता है। इस लेख में जानेंगे खमीरा क्या है इसका उपयोग कैसे करें और खमीरा के फायदे स्वास्थ्य लाभ और इसके नुकसान क्या है तथा इसका सेवन किन किन रोगों से बचाने में लाभदायक होता है सम्पूर्ण जानकारी के लिए पढ़ते रहिए Khamira marwareed ke fayde

खमीरा क्या होता है : what is khamira 

खमीरा एक ही यूनानी पद्धति से बनाई गई औषधि है। प्राचीन काल से ही आयुर्वेद के साथ यूनानी चिकित्सा पद्धति से रोगों का उपचार किया जाता रहा है। खमीरा बनाने में पेड़ पौधों, जड़ी बूटियों, खनिजों आदि संसाधनों द्वारा प्राप्त की गई अनेक सामग्रियों को शामिल किया जाता है।

औषधीय के मिश्रण को शक्कर के साथ जब तक गर्म किया जाता है जब तक खमीर न बनें इसलिए इसे खमीरा कहा जाता है। Khamira marwareed शरीर को बलशाली बनाने के साथ-साथ अनेक रोगों से मुक्ति दिलाने में भी उपयोगी होता है।

Khamira marwareed ke fayde / खमीरा के फायदे क्या है

khamira marwareed ke fayde

शारीरिक दुर्बलता दूर करने में खमीरा

खमीरा को शारीरिक दुर्बलता दूर करने की सबसे उत्तम औषधि माना गया है। Khamira marwareed का नियमित कुछ समय तक सेवन करने से शरीर बलशाली होता है। तथा शरीर में किसी भी कारण से आई हुई कमजोरी दूर होती है। इसके लिए चटनी युक्त खमीरे को 2 या 3 ग्राम की मात्रा में दूध के साथ नियमित सेवन करने से फायदा होता है। इसके अलावा किसी बीमारी के कारण आई हुई कमजोरी को दूर करने में भी Khamira marwareed मददगार होता है।

यह भी पढ़ें – शारीरिक कमजोरी दूर करने के घरेलू उपाय

रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत करने में खमीरा

खमीरा एंटीऑक्सीडेंट्स गुणों से भरपूर होता है। इसलिए थोड़ी सी मात्रा में खमीरा का नियमित पानी या दूध के साथ सेवन करने से इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। क्योंकि यह शरीर मे जरूरी पोषक तत्वों की पूर्ति करता है और शरीर को रोगों से बचाये रखने या रोगों से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है। अगर लंबे समय तक भी इसका लगातार सेवन किया जाये तो भी इसके शरीर में कोई भी दुष्प्रभाव नहीं होते हैं।

हृदय मजबूत करने में खमीरा

दिल को मजबूती प्रदान करने और हृदय से संबंधित रोगों से बचाने के लिए खमीरा एक कारगर टॉनिक होता है। धड़कन के अनियमित होने या घबराहट, बेचैनी जैसी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए खमीरे का प्रयोग लाभदायक होता है।

ब्लड प्रेशर के अनियंत्रित होने पर भी खमीरे का उपयोग करना फायदेमंद होता है। क्योंकि खमीरा ब्लड प्रेशर को कंट्रोल रखने के लिए बेहतरीन औषधि की तरह काम करता है और यह ह्रदय की धमनियों को भी स्वस्थ रखने में उपयोगी होता है।

पाचन तंत्र मजबूत करने में खमीरा

खमीरा डाइजेशन सिस्टम से जुड़े सभी अंगों को मजबूती प्रदान करने और पेट संबंधी समस्याओं से छुटकारा दिलाने में कारगर औषधि का काम करता है। इसके सेवन से पाचन तंत्र मजबूत होता है तथा पेट या पाचन से संबंधित समस्याएं जैसे अपच, बदहजमी, गैस, एसिडिटी, कब्ज, जी मिचलाना आदि समस्याओं से छुटकारा दिलाने में भी खमीरा बेहद फायदेमंद औषधि माना जाता है। इसलिए इसका नियमिय उपयोग करने से पाचन क्रिया सुचारू रूप से होती है।

मष्तिष्क को शक्ति प्रदान करने में खमीरा

मष्तिष्क को मजबूती प्रदान करने और शांत रखने के साथ-साथ मष्तिष्क से जुड़ी तमाम तरह की समस्याओं से छुटकारा दिलाने में खमीर का प्रयोग लाभकारी माना जाता है इसके इस्तेमाल से तनाव, डिप्रेशन, भूलने की बीमारी आदि समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है। यह मष्तिष्क से जुड़ी कोशिकाओं को भी शक्ति प्रदान करने में लाभदायक सिद्ध होता है।

बढ़ती उम्र के प्रभाव को कम करने में खमीरा

शरीर में बढ़ती हुई उम्र के प्रभाव को कम करने में खमीरा बेहद फायदेमंद माना जाता है। इसके नियमित सेवन से शरीर में उर्जा व ताकत बनी रहती है तथा यह स्किन व बालों के लिए भी बेहद कारगर होता है जो लोग नियमित खमीरे (Khamira marwareed) का सेवन करते हैं उनके शरीर में बुढापा समय से पहले नहीं आता और शरीर लंबे समय तक जवान बना रहता है। इसके अलावा खमीरा बुढ़ापे में शरीर को रोगों से बचाकर स्वस्थ रखने में भी मददगार होता है।

यह भी पढ़ें – बढ़ती उम्र के शरीर पर पड़ने वाले प्रभाव को कम करने के घरेलू उपाय

संक्रमण से बचाने में खमीरा

मौसमी बीमारियां जैसे सर्दी, खांसी, जुखाम, बुखार, नजला आदि समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए भी खमीरे का इस्तेमाल फायदेमंद होता है। क्योंकि यह कफ दोष से राहत दिलाने की कारगर औषधि है। खमीरा शरीर में जमे हुए कफ को बाहर निकालता है। जिससे इन मौसमी समस्याओं से छुटकारा मिलने के साथ-साथ फेफड़े भी मजबूत होते हैं और शरीर में ऑक्सीजन की सप्लाई सुचारू रूप से होती है। साथ ही खमीरे के नियमिय सेवन से इम्युनिटी मजबूत होने के कारण संक्रमित रोगों के खतरों से बचा जा सकता है।

खमीरा कितने प्रकार का होता है – Types of khamira

इसके प्रकार की बात करें तो खमीरा बहुत प्रकार का होता है जितनी भी यूनानी औषधियों का निर्माण करने वाली कंपनियां है उनमें से ज्यादातर कंपनियां खमीरे का निर्माण करती है।

इनमें में से मुख्य है जैसे हमदर्द खमीरा, शमा खमीरा, देहलवी खमीरा, खमीरा मरवारीद, खमीरा अबरेशम, खमीरा हमीदी, खमीरा अबरेशम हकीम अरशद वाला, हर्बल खमीरा, मारवाडी खमीरा, खमीरा गावज़बन अम्बरी जवाहर वाला और भी बहुत से खमीरे मार्किट में उपलब्ध होते है। कमजोरी की समस्या होने पर ज्यादातर लोगों की जुबान पर Humdard khamira marwareed होता है।

खमीरा का सेवन कैसे करें – Khamira marwareed uses in hindi

खाने में खमीरा बहुत टेस्टी होता है। इसलिए इसका सेवन करते वक्त इसकी मात्रा का विशेष ध्यान रखना चाहिए हमीरा का सेवन दो से तीन ग्राम की मात्रा में दूध या पानी के साथ किया जाना फायदेमंद होता है। ज्यादातर लोगों द्वारा इसका इस्तेमाल एक समय सुबह नास्ते में किया जाता है। लेकिन अगर किसी को ज्यादा स्वास्थ्य सम्बंधित समस्याएं हो तो दोनों समय भी सेवन किया जा सकता है।

खमीरे को हमेशा छोटे बच्चों की पहुंच से दूर रखना चाहिए क्योंकि यह खाने में अधिक स्वादिष्ट होने के कारण बच्चे इसका सेवन अधिक मात्रा में कर सकते हैं। वैसे विशेषज्ञों का मानना है कि 12 साल से छोटे बच्चों को खमीरे का उपयोग नहीं करना चाहिए।

खमीरा के नुकसान : Side effects of khamira marwareed in hindi

विशेषज्ञों के मतानुसार खमीरा के ज्यादा कोई नुकसान तो नहीं है लेकिन फिर भी इसके सेवन को लेकर कुछ सावधानियां बरतने की आवश्यकता जरूर होती है। जो लोग मधुमेह रोग से पीड़ित हैं उनको खमीरे का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। क्योंकि यह शुगर को बढ़ाता है। यह खाने में अत्यंत टेस्टी होने से अगर यह बच्चों को मिले तो वे इसे बड़े चाव से खाएंगे, इसलिए इसे छोटे बच्चों की पहुंच से दूर रखना चाहिए।

12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों में इसके सेवन से दस्त या पेट सम्बंधी समस्या होने का खतरा बना रहता है। लेकिन बड़े बच्चों को भी अगर इसका सेवन करवाया जाए तो इसकी मात्रा का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। बाकी वयस्क और स्वस्थ लोगों में खमीरे के कोई भी नुकसान नहीं है।

FAQ

Q 1. खमीरा मरवारीद क्या है?

Ans  यह खमीरा आम ही कैमिस्ट के पास मिलने वाली खास औषधि है जो शरीर मे किसी भी तरह की कमजोरी को दूर करने में बहुत फायदेमंद होता है। Khamira marwareed शरीर में ताकत बढ़ाने के साथ साथ अनेक शारीरिक समस्याओं से राहत दिलाने में भी मददगार होता है।

Q 2. क्या बच्चे खमीरा का उपयोग कर सकते हैं?

Ans वैसे तो खमीरे का उपयोग करने के कोई नुकसान नहीं है लेकिन फिर भी 12 साल से कम उम्र के बच्चों को इसका उपयोग नहीं करना चाहिए, क्योंकि उनको इसके सेवन से कुछ स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं होने का खतरा रहता है।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने जाना खमीरा क्या है Khamira marwareed ke fayde और नुकसान तथा इसका सेवन कैसे किया जाता है और यह है किन किन बीमारियों में फायदेमंद होता है इस लेख के बारे में आपके कोई भी सुझाव या सवाल हो तो आप कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं।

यह लेख खमीरा के फायदे और उपयोग Khamira marwareed ke fayde आपको कैसा लगा कमेंट में जरूर बताएं तथा इस लेख को अपने दोस्तों व परिवार के लोगों के साथ शेयर करना ना भूलें ताकि किसी जरूरतमंद को इसका लाभ मिल सके।

-: लेख को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद :-

इन्हें भी पढें-

मिलेट क्या है और इसको खाने के फायदे

मशरूम खाने के फायदे और उपयोग कैसे करें

सहजन के फायदे और किन रोगों में उपयोग किया जाता है

Share This Product On

Leave a Comment