ककोड़ा के फायदे और नुकसान | kakora ke fayde aur nuksan in hindi

ककोड़ा क्या है इसके फायदे और नुकसान (Health benefits of Spine gourd in hindi)

ककोरा (Kakora) या ककोड़ा पोषण तत्वों का खजाना है Kakora शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होती है। ककोड़ा का सेवन ज्यूस और सब्जी के रूप में करने से यह स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव डालते हैं। निरोगी हेल्थ के इस आर्टिकल में जानते हैं ककोरा क्या है (what is kakora), ककोड़ा के औषधीय गुण (kakora nutrition) और ककोड़ा के फायदे स्वास्थ्य लाभ व ककोरा के नुकसान क्या है आइए जानते हैं ककोड़ा के फायदे और नुकसान – kakora ke fayde aur nuksan in hindi

ककोड़ा क्या है (kakora kya hai)

ककोरा (Kakora) एक लोकप्रिय पोस्टिक सब्जी होती है। इसकी खेती पूरे भारत में प्राचीन समय से की जाती रही है। ककोड़ा फल को ककोरा, कंटोला, कर्कोटकी, ककोड़े आदि नाम से भी जाना जाता है। ककोरा को इंग्लिश में Spine Gourd नाम से जाना जाता है। Spine gourd करेले की ही एक प्रजाति होती है। Kakora एक छोटी कांटेदार दिखने वाली सबसे ज्यादा ताकतवर सब्जी है जिसे ककोड़ा और मीठा करेला के नाम से भी जाना जाता है क्योंकि इसका स्वाद करेले जैसा कड़वा नही होता इसका वैज्ञानिक Momordica Dioica नाम है।

ककोरा के पोषक तत्त्व (spiny gourd nutrition)

इस Kakora में मौजूद गुण और पोषक तत्व सेहत के लिए लाभदायक माने जाते हैं इसी कारण से हम नीचे प्रति 100 ग्राम ककोरा में पाए जाने वाले न्यूट्रिएंट्स वैल्यू के बारे में जानते हैं।

पोषक तत्त्व           —           मात्रा

एनर्जी                  —           288.25kcal

कार्बोहाइड्रेट        —          7.7 g

प्रोटीन                  —          3.1 g

वसा                     —          3.1 g

फाइबर                —           3.0 g

मिनरल                 —          1.1 g

कैल्शियम             —          50 mg

सोडियम               —         150 mg

पोटेशियम             —         830 mg

आयरन                —          14 mg

जिंक                    —         134 mg

टोटल फेनॉलिक

कम्पाउंड              —         370 mg

फाइटिक एसिड    —          280 mg

इसके अलावा ककोरा (Kakora) में केरोटिन, थियामिन,  राइबोफ्लेविन और नियासिन जैसे विटामिन की मात्रा भी पाई जाती है साथ ही यह लिपिड और फास्फोरस से भी भरपूर होता है।

ककोड़ा के चिकित्सकीय गुण (kakora ke fayde aur nuksan in hindi)

ककोरा की पूरी बेल चिकित्सीय गुणों से भरपूर होती है इसका सेवन बीमारी का इलाज नहीं बल्कि बीमारी से बचाव का एक तरीका है। ककोड़ा और इसके पत्ते व जड़ से होने वाले फायदों के बारे में जानते हैं।

एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर ककोरा

ककोरा में एंटीऑक्सीडेंट गुण प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं शोध में पाया गया है की ककोरा में फ्लेवोनॉयड तत्व होता है जो शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट गतिविधि प्रदर्शित करता है।

यह एंटी ऑक्सीडेंट शरीर में फ्री रेडिकल्स द्वारा उत्पन्न कोशिकाओं से होने वाले नुकसान को रोकने व धीमा करने में मदद कर सकता है इन फ्री रेडिकल्स व मुक्त कणों की मात्रा जब ज्यादा हो जाती है तो हृदय रोग, कैंसर और लिवर की समस्याएं होने का जोखिम बढ़ सकता है।

ककोड़ा के औषधीय गुण और फायदे (kakora ke fayde in hindi)

अल्सर के लिए ककोड़ा का उपयोग

अल्सर की समस्या से बचने के लिए भी ककोरा का उपयोग किया जा सकता है कंटोला के फल में हाइड्रोएल्कोहल अर्क में एंटीअल्सर गुण होता है। दरअसल इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और फ्री रेडिकल्स को दूर करने वाला प्रभाव गैस्टिक और एसिड को कम करके एंटीअल्सर गुण प्रदर्शित करते हैं। और पढ़ें ~ पेट में अल्सर के लक्षण, कारण और उपचार

त्वचा के लिए ककोड़ा का उपयोग

ककोरा का उपयोग सेहत के साथ-साथ त्वचा के लिए भी फायदेमंद होता है। kakora के पत्तों का पेस्ट त्वचा संबंधी रोगों को दूर करने में सहायक होता है। इसके कच्चे फल यानी टेंडर ककोड़ा को मुंहासों की समस्या कम करने के लिए भी प्रयोग किया जाता है। साथ ही ककोरा के भुने हुए बीज एक्जिमा और अन्य त्वचा संबंधी समस्याओं के लिए फायदेमंद होते हैं। और पढ़ें ~ त्वचा रोग का घरेलू इलाज

टाइप 2 डायबिटीज में ककोड़ा के फायदे

रक्त में ग्लूकोज की मात्रा बढ़ जाने पर डायबिटीज की समस्या होती है। इससे कुछ हद तक बचाव में kakora फायदेमंद साबित हो सकता है। शोध में पाया गया है कि ककोड़ा में anti-diabetic और हाइपोग्लाइसेमिक प्रभाव होते हैं। इसके कारण रक्त में मौजूद शुगर के स्तर को कम करने व नियंत्रित करने में ककोरा मददगार होता है। इसलिए टाइप 2 मधुमेह से बचाव के लिए नियमित आहार में इसे शामिल किया जा सकता है। और पढ़ें ~ मधुमेह के लिए आहार चार्ट

बुखार में ककोरा के फायदे

बुखार को कम करने में भी ककोरा का उपयोग किया जा सकता है। ककोरा की जड़ के रस में एंटीपायरेटिक गुण होता है यह बुखार को कम करने में मददगार होता है। यह सिडेंटिव की तरह कार्य करता है इसी वजह से तेज बुखार में kakora की जड़ का पेस्ट शरीर में लगाने से बुखार से तुरंत राहत मिलती है।

बालों के झड़ने में ककोड़ा का उपयोग

आज के समय में बालों के झड़ने की समस्या एक आम समस्या बन गई है। स्त्री हो या पुरुष सभी बालों की समस्याओं से परेशान है जैसे असमय में बालों का सफेद होना, रूसी, रूखे बाल, बालों का झड़ना, गंजापन, दो मुहे बाल आदि। इन सभी परेशानियों से बचने के लिए ककोरा की जड़ को घिसकर बालो की जड़ो में लगाने से बाल मजबूत होते है और बालों की सभी प्रकार की समस्याओं से छुटकारा मिलता है। इसके अलावा ककोरा की सब्जी का भी नियमित सेवन करने से इन समस्याओं में मदद मिलती है।

कैंसर रोग में ककोड़ा का उपयोग

यह एक घातक बीमारी होती है। इससे बचने में ककोरा कुछ हद तक मददगार साबित हो सकता है। शोध में पाया गया है कि ककोड़ा के अर्क में एंटी कैंसर गुण पाए जाते हैं। कटीले सब्जी के अर्क का इस्तेमाल करने से 50% तक कैंसर सेल्स को नियंत्रित किया जा सकता है।

इम्युनिटी बढ़ाने में ककोड़ा का उपयोग

ककोड़ा में प्रोटीन और विटामिन सी प्रचुर मात्रा में होने के कारण इसका सेवन करने से रोगप्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है व विटामिन सी शरीर मे सफेद रक्त कोशिकाएं बढ़ाने में भी उपयोगी होता है। क्योंकि श्वेत रक्त कोशिकाएं (white blood cells) शरीर को वायरस और इंफेक्शन से भी बचती है व इम्यून सिस्टम मजबूत बनाने में सहायक है। इसलिए ककोरा का ज्यूस या इसकी सब्जी का सेवन अवश्य करना चाहिए। और पढ़ें ~ रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय

शरीर को शक्तिशाली बनाने में ककोड़ा का उपयोग

ककोड़ा में प्रोटीन की मात्रा अधिक होने के कारण  शारीरिक शक्ति बढ़ाने व शरीर की मजबूती के लिए ककोरा को एक शक्तिवर्धक टॉनिक माना गया है। यह मांसपेशियों के विकास के लाभदायक सिद्ध होता है। इसलिए शारिरिक एक्टिविटी ज्यादा करने और जिम में कसरत करने वालों को ककोड़ा का सेवन आवश्यक रूप से करना चाहिए। ककोरा शरीर को अदभुत ऊर्जा प्रदान करता है। और पढ़ें ~ शरीर को हष्ट पुष्ट कैसे बनाएं

ककोड़ा के अन्य उपयोग (kakora ke fayde aur nuksan in hindi)

ककोड़ा का प्रयोग बहुत प्रकार से किया जा सकता है। यहां पर हम आपको kakora के कुछ आम प्रयोग (spiny gourd benefits in hindi) के बारे में बताने जा रहे हैं।

  • आमतौर पर किचन में इसका उपयोग सब्जी बनाने के लिए किया जाता है।
  • इसकी जड़ के पेस्ट को तेज बुखार आने पर पूरे शरीर पर लगा सकते हैं।
  • ककोरा के पाउडर को पिंपल से बचाव के लिए त्वचा पर भी लगाया जा सकता है।
  • इसकी सुखी जड़ के पाउडर का उपयोग त्वचा को मुलायम करने और पसीना कम करने के लिए भी किया जा सकता है।
  • ककोड़ा का जूस बनाकर भी उपयोग किया जा सकता है।
  • इस के भुने हुए बीज का पाउडर बनाकर एक्जिमा से बचाव के लिए प्रयोग किया जा सकता है।
  • ककोरा का नियमित सेवन करने से पीलिया और बवासीर जैसी समस्याओं से भी राहत मिलती है।
  • इसके सेवन से बारिश के मौसम में होने वाली दाद, खाज, खुजली की समस्या से भी राहत मिलती है।
  • ककोरा की जड़ का रस निकालकर इसका सेवन सुबह खाली पेट भी किया जाता है।

ककोड़ा के नुकसान (kakora ke nuksan in hindi)

इसके फायदों के साथ-साथ kakora के कुछ नुकसान भी हो सकते हैं इसी वजह से ककोरा का सेवन सीमित मात्रा में किया जाना चाहिए। ककोड़ा का अधिक मात्रा में इसका उपयोग करने से होने वाले नुकसान है जैसे

  • अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से पाचन तंत्र संबंधित और पेट दर्द या दस्त जैसी समस्याएं भी उत्पन्न हो सकती है।
  • ककोड़ा का सेवन रक्त में मौजूद शुगर को कम कर सकता है लो शुगर की समस्या वाले इसका सेवन डॉक्टर की सलाह पर ही करें।
  • इसकी जड़ में गर्भनिरोधक और एंटीफर्टिलिटी गुण होता है इसलिए गर्भवती महिलाओं को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।
  • कुछ लोगों में इसके सेवन से एलर्जी की समस्या भी हो सकती है इसलिए इसका सेवन करने से पहले योग्य वेद या चिकित्सक से परामर्श कराना आवश्यक होता है।

FAQ : ककोड़ा को लेकर पूछे जाने वाले सवाल

Q1.   ककोड़ा की जड़ किस काम मे आती है ?

Ans  इसकी जड़ में बहुत से ओषधीय गुण पाए जाते है पेट मे कीड़ो में या किसी जहरीले जीवो के जहर के प्रभाव को कम करने में ककोड़ा की जड़ का प्रयोग किया जाता है।

Q2.  ककोड़ा खाने से क्या होता है ?

Ans  इसको खाने से बालों का झड़ना, कान दर्द, खांसी, पेट में इन्फेक्शन, सिर दर्द, बवासीर, पीलिया, हृदय रोग, कैंसर जैसी अनेक बीमारियों में लाभ मिलता है इसके अलावा इसे खाने से ब्लड शुगर लेवल भी कंट्रोल रहता है क्योंकि डायबिटीज में इसके सेवन से बहुत फायदा मिलता है।

Q3.  ककोड़ा की तासीर कैसी होती है ?

Ans  इस की तासीर गर्म होती है और यह खाने में भी बहुत स्वादिष्ट होता है इसे खाने से जबरदस्त ताकत मिलती है और यह बरसात के मौसम में ज्यादा पाया जाता है।

निष्कर्ष (Conclusion)

इस आर्टिकल में हमने जाना ककोरा क्या है, ककोड़ा के औषधीय गुण और kakora या ककोड़ा के स्वास्थ्य लाभ व ककोरा के फायदे और नुकसान क्या है तथा ककोरा का उपयोग किन किन रोगो से बचने के लिए किया जा सकता है। इस लेख के बारे में अगर आपके कोई भी सुझाव या सवाल हो तो आप हमें कमेंट में पूछ सकते है।

यह लेख kakora के फायदे और नुकसान आपको कैसा लगा कमेंट करके जरूर बताएं तथा पोस्ट को अपने परिवार व दोस्तों के साथ शेयर अवशय करें।

इन्हें भी पढ़ें-

Leave a Comment