Health is wealth | जीवनभर रहना चाहते हैं स्वस्थ तो इन 15 चीजों का करें सेवन

जीवनभर स्वस्थ रहने के घरेलू टिप्स Health tips in hindi, आज हम जानेंगे ऐसे कौन से खाद्य पदार्थ हैं जिनका नियमित सेवन करने से हेल्दी रहने Good health में मदद मिलती हो। जीवन भर स्वस्थ रहने के लिए सबसे पहले यह जानकारी होना जरूरी है की क्या खाना चाहिए या क्या खाना स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद और क्या खाना स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक है।

अगर यह जानकारी आपको हो गई तो जीवन भर निरोगी रहने में काफी मदद मिल सकती है। क्योंकि Health is wealth यानि उत्तम स्वास्थ्य ही जीवन की सबसे बड़ी पूंजी है। इसके लिए ऋतू और मौसम के अनुसार कुछ चीजें अपनी डाइट में शामिल करने से शरीर में जरूरी विटामिन्स, मिनरल्स, खनिज, प्रोटीन, कार्बोहाइट्रेड जैसे अनेक तत्वों की पूर्ति होती है और शरीर स्वस्थ व निरोगी बना रहता है।

स्वस्थ रहना क्यों जरूरी है / Health is wealth

आजकल दुनियाभर में कई लोग किसी न किसी बीमारी से ग्रसित हैं जिसकी मुख्य वजह हैं अनियमित खानपान, खराब दिनचर्या, व्यायाम व शारीरिक एक्टिविटीज न करना, शरीर मे पोषण की कमी आदि।

आजकल लोगों में कई गंभीर बीमारियां भी देखने को मिलती हैं जैसे टीबी, कैंसर, हार्ट प्रॉब्लम, मोटापा, जोड़ों और घुटनों में दर्द, सिर दर्द, माइग्रेन, आंखों के रोग, कान के रोग, डायबिटीज, ब्लड प्रेशर आदि। 

लेकिन आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति में बताये गए कुछ ऐसे पदार्थ या औषधियां है जिनका सेवन करके व्यक्ति हमेशा के लिए स्वस्थ रह सकता हैं और इन खतरनाक बीमारियों से शरीर की रक्षा कर सकता है तो आइए जानते हैं।

स्वस्थ रहने के उपाय : Health tips in hindi

हमेशा निरोगी और स्वस्थ रहने के लिए अपने नियमित आहार में कुछ ऐसी चीजों को शामिल करने की आवश्यकता होती है जो शरीर में जरूरी पोषक तत्वों की पूर्ति करती हो और बीमारियों से बचाये रखने में मदद करती हो, आज इस लेख में ऐसे ही खाद्य या पेय पदार्थो के बारे में चर्चा करेंगे इसलिए अंत तक जरूर पढ़ें।

जीवन भर स्वस्थ व निरोगी बने रहने के लिए शरीर की जरूरत के अनुसार उचित मात्रा में फाइबर, प्रोटीन, कैल्शियम, कार्बोहाईड्रेट, एंटीऑक्सीडेंट्स, विटामिन्स, मिनरल्स खनिज तत्व आदि से युक्त खाद्य पदार्थों को अपनी नियमित डाइट में शामिल करना फायदेमंद होता है। हमेशा पोषक तत्व युक्त पौष्टिक भोजन करें तथा पोषक तत्व युक्त फल व सब्जियों का नियमित सेवन करें।

स्वास्थ्य के लिए हरी सब्जियों का सेवन

हरी सब्जियां यानी ग्रीन वेजिटेबल्स शरीर को हेल्दी बनाए रखने में काफी सहायक है क्योंकि हरी सब्जियों में विटामिंस, मिनरल्स, कैल्शियम, आयरन, प्रोटीन आदि के साथ-साथ यह एंटीऑक्सीडेंट्स गुणों से भी भरपूर होती है इसलिए इनका नियमित सेवन करने से शरीर स्वस्थ बना रहता है तथा बीमारियों से बचे रहने में मदद मिलती है।

हेल्दी रहने के लिए मौसमी फलों का सेवन

शरीर को हमेशा हेल्दी रखने के लिए फ्रूट्स काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। सुबह नाश्ते में नियमित फलों का सेवन करना शरीर को हेल्दी रखने के साथ-साथ ऊर्जावान भी बनाए रखता है। फलों का नियमित सेवन करना अनेक रोग जैसे मोटापा, डायबिटीज, रक्तचाप, कोलेस्ट्रोल जैसी बीमारियों के खतरे से बचाने में बहुत मददगार होता हैं।

निरोगी रहने के लिए ड्राई फ्रूट्स का सेवन

नट्स का नियमित सेवन करना स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। सुबह नित्यक्रम से फ्री होने के बाद अगर एक मुट्ठी ड्राई फ्रूट्स का सेवन नियमित किया जाए तो निरोगी और स्वस्थ रहने में काफी मदद मिलती है। ड्राई फ्रूट्स में घुलनशील व घुलनशील फाइबर होते हैं जो रक्तचाप व कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित रखते हैं।

स्वस्थ रहने के लिए आंवला का सेवन

प्रतिदिन आंवला जूस, आंवला मुरब्बा या आंवला चूर्ण का सेवन करने से शरीर के सभी प्रकार के शारीरिक दोष दूर होते हैं। इसके साथ ही आंवला में भरपूर मात्रा में विटामिन सी होता हैं जो आंखों और बालों के लिए बहुत लाभदायक होता है।

स्वास्थ्य के लिए एलोवेरा का सेवन

एलोवेरा का ताजा जूस या एलोवेरा की गिरी यानी गुदा निकालकर नियमित सेवन करने से शरीर में होने वाले किसी भी प्रकार के वात-पित्त और कफ जनित रोगों का नाश होता हैं। इसके अलावा एलोवेरा बालों व त्वचा के लिए भी काफी फायदेमंद होता हैं।

इसका रोजाना सेवन करने से स्किन पर किसी प्रकार के दाग धब्बे, पिम्पल्स, मुंहासे, झुर्रियां आदि नहीं होते और सभी प्रकार के चर्म रोगों से छुटकारा मिलता हैं।

निरोगी रहने के लिए नीम का इस्तेमाल

नीम हजारों गुणों से भरपूर होता हैं। इसलिए आजकल नीम का प्रयोग बहुत सी एलोपेथी दवाओं के निर्माण में भी होने लगा है। नीम की ताजा पत्तियों का सेवन करने पर त्वचा व दांतों के रोग दूर होते हैं।

साथ ही इन पत्तियों का उपयोग करने से आंखों की रोशनी भी बढ़ती हैं तथा नीम के सेवन से ह्रदय सम्बंधी रोगों के खतरे से भी बचने में मदद मिलती है।

हेल्दी रहने के लिए त्रिफला का सेवन

आयुर्वेद में त्रिफला सबसे ज्यादा चमत्कारी औषधि माना गया है। इसका नियमित सेवन करने पर 100 से भी ज्यादा रोगों से मुक्ति मिलती हैं। यह आंवला, बहेड़ा और हरड़ के मिश्रण से बनाया जाता है। त्रिफला सभी प्रकार के वात-पित्त और कफ रोगों का नाश करता हैं और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में काफी बढ़ोतरी करता है। त्रिफला Weight loss या वजन नियंत्रित रखने, कब्ज दूर करने तथा शारीरिक शक्ति बढ़ाने में बहुत ही कारगर औषधि माना जाता है।

शरीर में किसी भी तरह की थकान दूर करने के लिए इसका नियमित सेवन फायदेमंद होता है। त्रिफला चूर्ण का नियमित सेवन करने से समय से पहले आने वाले बुढ़ापे से बचा जा सकता है। इसके इस्तेमाल से डायजेशन सिस्टम मजबूत होता है त्रिफला संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है।

स्वस्थ रहने के लिए अनार का सेवन

अनार, अनारदाना या अनार जूस का नियमित सेवन करने स्वस्थ रहने के साथ साथ ह्रदय भी मजबूत होता है। सुबह रोजाना अनार खाने या इसका जूस पीने से रक्तचाप व ह्रदय की धड़कनों को नियंत्रित रखा जा सकता है।

स्वास्थ्य के लिए शहद का सेवन

शहद अनेक पोषक तत्वों से भरपूर होने के कारण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। इसका सेवन करने शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता काफी मजबूत होती हैं। शहद में भरपूर मात्रा में एंटीबैक्टीरियल तत्व भी मौजूद होते हैं जो बॉडी में होने वाले बैक्टीरिया के प्रभाव को निष्क्रिय करते हैं।

हेल्दी रहने के लिए नींबू का सेवन

शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत रखने में विटामिन सी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और नींबू में भरपूर मात्रा में विटामिन सी होता हैं जो त्वचा, पेट, बालों और आंखों के साथ साथ संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता हैं। गुनगुने पानी में नींबू का रस और शहद मिलाकर रोज पीने से वजन नियंत्रित रहता हैं बढ़े हुए पेट को कम करने में यह बहुत ही कारगर उपाय है।

स्वास्थ्य के लिए करेले का सेवन

करेले के सीजन में इसका सेवन करना मधुमेह से बचाने के साथ साथ कई रोगों से बचाता है। डायबिटीज से छुटकारा पाने के लिए करेले की सब्जी या जूस सेवन करना लाभकारी होता है। इसके नियमित सेवन से धीरे-धीरे डायबिटीज का स्तर कम होने लगता हैं।

Health is wealth

स्वस्थ रहने के लिए मेथी के सेवन

मेथी में शरीर के लिए आवश्यक सभी पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं मेथी के दानों में प्रोटीन, फाइबर, विटामिन A, विटामिन C, कार्बोहाइड्रेट जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं।

इसलिए मेथीदाना के चूर्ण का एक चम्मच की मात्रा में रोजाना गुनगुने पानी के साथ सेवन करना स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होने के साथ साथ जोड़ो व घुटनों के दर्द से भी छुटकारा दिलाता है क्योंकि किसी प्रकार के दर्द के लिए यह एक रामबाण औषधि हैं।

स्वास्थ्य के लिए शतावर का उपयोग

शरीर में होने वाली किसी भी प्रकार की शारीरिक कमजोरी, थकान, सुस्ती, दर्द आदि को दूर करने के लिए नियमित शतावर व अश्वगंधा के चूर्ण को दूध के साथ मिलाकर पीना फायदेमंद होता है। इससे कमजोरी दूर होकर बॉडी में नई उर्जा का संचार होता है और नींद भी अच्छी आती है।

स्वास्थ्य के लिए अश्वगंधा का उपयोग

अश्वगंधा एक पावरफुल जड़ी बूटी है जो शरीर की शारीरिक शक्ति को बेहतर बनाने में काफी मददगार है। आयुर्वेदिक चिकित्सा के अनुसार अश्वगंधा जैविक रूप से सक्रिय पदार्थों से समृद्ध होता है क्योंकि यह मैक्रो और सूक्ष्म तत्व अमीनो एसिड, लिपिड और न्यूक्लिक एसिड तथा पेप्टाइडस के आधार से बना हुआ है।

अश्वगंधा अभी ऑर्डर करें

हेल्थ के लिए अरबी का पत्ता

अरबी का पत्ता स्वास्थ्य के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है यह एक औषधि की तरह काम करता है क्योंकि इसमें विटामिन सी, बी, ए, पोटेशियम, कैल्शियम, एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे तत्व प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं इसलिए यह स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। शारीरिक कमजोरी दूर करने, वजन घटाने के लिए अरबी का पत्ता बहुत ही लाभकारी माना जाता है।

निष्कर्ष

दोस्तों आज के इस लेख में हमने जाना कि निरोगी व स्वस्थ रहने के घरेलू उपाय क्या है, स्वस्थ रहने के लिए क्या खाना चाहिए तथा ऐसे कौन से खाद्य या पेय पदार्थ है जिन का नियमित सेवन करना लंबा जीवन जीने के लिए आवश्यक है इस लेख के बारे में अगर आपके कोई भी सवाल या सुझाव हो तो कमेंट बॉक्स में जरूर लिखना।

उम्मीद करते हैं यह आर्टिकल Health is wealthस्वस्थ रहने के घरेलू टिप्स आपको जरूर पसंद आया होगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं तथा इस लेख को अपने परिवार व दोस्तों के साथ शेयर अवश्य करें।

-: लेख को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद :-

इन्हें भी पढ़ें-

Share This Product

Leave a Comment