बालों को स्वस्थ रखने के उपाय | Best hair care tips in hindi

बालों की देखभाल कैसे करें (Healthy hair care tips in hindi) बेस्ट हेयर केयर गाइड

आजकल असंतुलित खानपान, तनाव, प्रदूषण व कैमिकल युक्त हेयर प्रोडक्ट्स के कारण बालों की समस्या (Hair problem) अधिक होने लगी है। इसलिए हर व्यक्ति बालों को सेहतमंद रखने के लिए हेयर केयर टिप्स (hair care tips in hindi) जानना चाहता है। निरोगी हेल्थ के इस लेख में कुछ हेयर केयर ब्यूटी टिप्स (Beauty and hair care tips in hindi) व बालों की देखभाल के घरेलू नुस्खे बता रहे हैं जानते हैं बालों को स्वस्थ रखने के उपाय Best hair care tips in hindi

बालों के दो भाग होते हैं हेयर सॉफ्ट (तना) जो त्वचा के बाहर होता है तथा हेयर रूट (बाल की जड़) जो त्वचा के भीतर होती है। बाल की जड़ के आखिरी हिस्से को हेयर बल्ब कहा जाता है। यह भाग बालों का सबसे महत्वपूर्ण भाग है। क्योंकि हेयर बल्ब ही बालों के विकास के लिए जिम्मेदार होता है। इस हिस्से को क्षति होने से बाल हमेशा के लिए नष्ट हो सकते हैं।

हेयर बल्ब में वैसी कोशिकाएं होती है जो काले रंग के पिगमेंट पैदा करती हैं। अगर यह कोशिकाएं पिगमेंट बनाना बंद कर दे तो बाल जड़ के पास से ही सफेद होना शुरू हो जाते हैं। इसलिए बालों की देखभाल (hair care tips in hindi) करना जरूरी होता है क्योंकि पुरुषों व महिलाओं में बालों का महत्व सौंदर्य की दृष्टि से अधिक होता है।

बाल कमजोर होने के कारण (Balo ke kamjor hone ke karan)

ठंड के मौसम में बालों को कम धोने के कारण स्कैल्प पर डैंड्रफ की परत बन जाती है और बाल टूटने लगते हैं। सर्दियों में ऊन की टोपी या स्कार्फ आदि पहनने से भी स्कैल्प पर पसीना आता है और हेयर फॉल (Hair fall) का कारण बनता है। इसके साथ ही शरीर में प्रोटीन, जिंक और आयरन जैसे पोषक तत्वों की कमी के कारण भी बाल कमजोर होकर झड़ते हैं।

इन पोषक तत्वों की कमी को नियमित आहार से पूरी की जा सकती है। हमारे शरीर के बाल कैरोटीन नामक एक विशेष प्रकार के सरंचनात्मक प्रोटीन से बने होते हैं जो हमारे बालों का 95% हिस्सा बनाते हैं। इसलिए कैरोटीन का शरीर में पर्याप्त मात्रा में होना जरूरी होता है।

बालों की देखभाल के लिए क्या खाएं (Diet for hair care tips in hindi)

प्रोटीन की पूर्ति के लिए

प्रोटीन की कमी को पूरा करने के लिए ब्रेकफास्ट में अंडे, मूंगफली तथा ड्राईफ्रूट्स में बादाम, अखरोट, ओट्स, मूंग दाल चीला या बेसन चीला का नियमित सेवन दूध के साथ करना फायदेमंद होता है। लंच और डिनर में दाल या पनीर को शामिल करना चाहिए। अगर आप नॉन वेजिटेरियन है तो हफ्ते में दो बार ग्रिल्ड चिकन या मछली खा सकते हैं। यह सभी प्रोटीन रिच फूड होते हैं।

इसके अलावा दूध का दूध से बने पदार्थों में भी भरपूर मात्रा में प्रोटीन होता है। प्रोटीन युक्त भोजन तथा अन्य पदार्थों का नियमित सेवन करने से शरीर हेल्दी और ताकतवर होने के साथ साथ बालों की ग्रोथ व स्वस्थ रखने में भी यह उपयोगी होता है। मोरिंगा (सहजन) में भी प्रोटीन प्रचुर मात्रा में होता है इसके बारे में और जानने के लिए पढें- सहजन के फायदे और नुकसान क्या है

आयरन की पूर्ति के लिए

शरीर में आयरन की कमी होने से पर्याप्त मात्रा में हीमोग्लोबिन नहीं बन पाता है। हीमोग्लोबिन शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को बूस्ट करने का काम करता है और बालों व शरीर के अन्य अंगों में ऑक्सीजन पहुंचाने का काम भी करता है। शरीर में आयरन की कमी से ऑक्सीजन सर्कुलेशन कम हो जाता है जो बालों के झड़ने का मुख्य कारण बनता है।

आयरन की कमी दूर करने के लिए हरी पत्तेदार सब्जियों का सलाद के रूप में सेवन व पालक, गाजर, चुकंदर आदि के जूस का नियमित सेवन करना फायदेमंद होता है। इसके साथ ही अंकुरित अनाज भी आयरन का बहुत अच्छा स्रोत होता है। इसलिए इन खाद्य व पेय पदार्थों का नियमित सेवन करने से शरीर में आयरन की कमी को दूर किया जा सकता है।

जिंक की पूर्ति के लिए

शरीर में जिंक की कमी होने से बालों का विकास रुक जाता है और बाल तेजी से झड़ने लगते हैं। जिंक जरूरी पोषक तत्वों में से एक होता है। यह शरीर को स्वस्थ रखने, ब्लड शुगर को नियंत्रित रखने, हृदय को हेल्दी रखने तथा त्वचा व बालों को स्वस्थ रखने में अहम भूमिका निभाता है।

शरीर में जिंक की पूर्ति के लिए मशरूम, मूंगफली, तिल, दही, लहसुन, छोले, काजू फलियां, तथा सीड्स का सेवन करना चाहिए। यह सभी पदार्थ जिंक के बहुत अच्छा स्रोत होते हैं। इनमें जिंक के अलावा प्रोटीन, पोटेशियम, मैग्नीशियम, फाइबर, कॉपर, आयरन, विटामिंस, फॉलेट, एंटीऑक्सीडेंट्स और दूसरे पोषक तत्व भी काफी मात्रा में पाए जाते हैं।

एनीमिया से छुटकारा पाने के लिए

शरीर में होने वाले एनीमिया रोग के कारण हेयर फॉल होता है। इस रोग में बालों सम्बंधी समस्याएं होने के साथ साथ स्किन प्रॉब्लम, जोडों में दर्द, पेट के रोग, इम्यून सिस्टम कमजोर होने जैसी अनेक स्वास्थ्य सम्बंधी समस्याएं पैदा होती है। हरी सब्जियां जैसे पालक, बथुआ, मेथी आदि में भरपूर मात्रा में आयरन पाया जाता है। जो एनीमिया से राहत दिलाने में उपयोगी है।

इसके अलावा राजमा, छोले, मूंगफली, काला चना, छुहारा, खुमारी, सीताफल के बीज, फ्लैक्सीड्स, ब्रोकली आदि का सेवन भी एनीमिया रोग में फायदेमंद होता है। इसलिए इन चीजों का सेवन करने से शरीर को एनीमिया रोग से छुटकारा मिलता है। आयरन फूड्स को दूध या चाय के साथ नहीं लेना चाहिए क्योंकि यह बॉडी में आयरन जाने से रोक देते हैं। यह भी पढ़ें ~ मेटाबोलिज्म क्या है और इसे कैसे बढ़ाएं

बालों की देखभाल के घरेलू तरीके (Home remedies hair care tips in hindi)

बालों को धोने का रूटीन

सर्दी या गर्मी कोई भी मौसम हो बालों की साफ सफाई व हेयर केयर टिप्स (hair care tips in hindi) का नियमित ध्यान रखना जरूरी होता है। बालों को हमेशा पीएच संतुलित और शुद्ध हर्बल हेयर केयर शैंपू से ही धोना चाहिए। इससे बाल कोमल, मुलायम व चमकदार होने के साथ-साथ सिर की त्वचा को भी कोमलता मिलती है। बालों को घना, लंबा और सेहतमंद बनाएं रखने के लिए हेयर कलीन रखना आवश्यक होता है।

पानी का तापमान सही हो

बालों को धोने में हमेशा गुनगुने पानी का ही इस्तेमाल करना चाहिए। सबसे पहले बालों को गिला करें और उन पर शैंपू लगाएं तथा हथेली को धीरे-धीरे बालों और पूरे सिर पर घुमाते हुए शैंपू के झाग आने दे और उसके बाद पानी से धो लें। लेकिन ज्यादा गर्म पानी से बालों को धोने से रूसी, डेंड्रफ, बाल झड़ने जैसी समस्याएं पैदा होती है

बालों में मालिश करें

स्कैल्प यानी बालों के नीचे की त्वचा की देखभाल के लिए विशेष रूप से शुद्ध नारियल तेल, सरसों का तेल या जैतून के तेल का इस्तेमाल करना फायदेमंद होता है। नारियल व जैतून के तेल में भीमसेनी कपूर व नींबू का रस मिलाकर हफ्ते में एक बार अच्छे से बालों में मसाज करने डेंड्रफ व रूसी की समस्या से छुटकारा मिलता है।

सिर में पर्याप्त मात्रा में तेल लगाना चाहिए तथा बिना किसी दबाव के उंगलियों को चारों ओर घुमा कर धीरे-धीरे मालिश करनी चाहिए। हफ्ते में एक या दो बार मालिश करने से बालों की जड़े मजबूत करने में मदद मिलती है।

FAQ

Q 1. बालों की सही देखभाल कैसे करें?

Ans  इसके लिए रोज पोषक तत्वों युक्त भोजन का सेवन करना चाहिए। बालों में हमेशा नारियल, जैतून व अरंडी के तेल की अच्छी तरह से जड़ों (Hair root) में मालिश करना फायदेमंद होता है। इसके अलावा कैमिकल युक्त पानी भी बालों के लिए नुकसानदायक होता है। इसलिए साफ व शुद्ध पानी से ही बाल धोने चाहिए।

Q 2. बालों को कितने दिन में धोना चाहिए?

Ans  जिनके बाल ऑयली होते हैं उनको बाल जल्दी धोने पड़ते हैं। लेकिन जिनके बाल ऑयली नही है उनके लिए बालों को ज्यादा धोना नुकसानदेह हो सकता है। क्योंकि इससे बालों व स्कैल्प का नेचुरल बैलेंस बिगड़ सकता है।

इस लेख में बताए गए आसान से हेयर केयर टिप्स एट होम (hair care tips in hindi) व देखभाल के तरीकों को आजमाकर बालों को स्वस्थ रखने में आपको मदद जरूर मिलेगी।

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में हमें जाना बाल झड़ने या कमजोर होने के कारण क्या है तथा हेयर केयर ब्यूटी टिप्स (hair care tips in hindi) और क्या खाने से बाल स्वस्थ व मजबूत हो सकते है साथ ही बालों की देखभाल करने के घरेलू उपाय तथा नुस्खें कौन कौन से है।

इस आर्टिकल बालों को हेल्दी रखने के उपाय (Best hair care tips in hindi) के बारे में आपके कोई सुझाव या सवाल हो तो कमेंट बॉक्स में लिखें तथा पोस्ट को सोशल मीडिया साइट्स पर शेयर करना ना भूलें ताकि किसी जरूरतमंद तक जानकारी पहुंचाने में मदद हो सके।

इन्हें भी पढ़ें-

Leave a Comment