लहसुन खाने के फायदे और नुकसान क्या है | Garlic health benefits in hindi

कच्चा लहसुन खाने के क्या फायदे हैं (Raw Garlic health benefits in hindi) लहसुन के फायदे

लहसुन का उपयोग हर घर मे सब्जियों में तड़का लगाने के लिए किया जाता है लहसुन स्वास्थ्य के लिए उपयोगी माना जाता है। इसलिए लहसुन का सेवन शरीर को अनेक रोगों से बचाने और इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में मददगार होता है। निरोगी हेल्थ के इस आर्टिकल में जानेंगे लहसुन के पोषक तत्व और लहसुन का उपयोग करने से स्वास्थ्य के लाभ (Garlic health benefits in hindi) व लहसुन का सेवन करने से किन रोगों से बचा जा सकता है व लहसुन खाने के फायदे (eating Garlic health benefits in hindi) क्या है आइए जानते हैं लहसुन खाने के फायदे और नुकसान Eating Garlic health benefits in hindi

Contents

आयुर्वेद के अनुसार सुबह खाली पेट कच्चा लहसुन (Eating raw garlic in hindi) चबाकर खाने से बहुत सी बीमारियां दूर होती है। यह स्वस्थ शरीर के लिए लाभदायक होता है। लहसुन हर घर में प्रयोग की जाने वाली ऐसी औषधि है जिसका इस्तेमाल तड़का लगाने में सब्जियों का स्वाद और सुगंध बढ़ाने के लिए किया जाता है।

लहसुन में शरीर के लिए आवश्यक पोषक तत्व होते है। लहसुन में प्रचुर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं जिससे यह बीमारियों से बचाने में हमारी रक्षा करता है। यह वात रोगों को ठीक करता है तथा गले को साफ करके स्वर मधुर करता है।

लहसुन में पोषक तत्व (Garlic nutrition value in hindi)

यह अनेक पोषक तत्वों का भंडार होता है। लहसुन में एंटीबायोटिक, एंटीवायरल, एंटीफंगल, एंटीमाइक्रोबॉयल, एंटीऑक्सीडेंट, मैग्नीज, पोटेशियम, आयरन, कैल्शियम और विटामिन व खनिज जैसे अनेक गुण व तत्व पाए जाते हैं जो हमारे शरीर को कई बीमारियों से बचाने में मददगार हो सकते हैं। लहसुन में भरपूर मात्रा में सल्फर होता है। इसमें मौजूद इन्ही पोषक तत्वों के कारण स्वास्थ्य के लिए लहसुन का सेवन करना फायदेमंद (Garlic health benefits in hindi) होता है

लहसुन खाने के 15 फायदे क्या है ( Eating Garlic health benefits in hindi)

रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में लहसुन के फायदे

लहसुन में पाए जाने वाले अनेक पोषक तत्वों के कारण यह हमें अनेक रोगों से बचाने में मदद करता है। कच्चे लहसुन का या सब्जियों में नियमित सेवन करना स्वास्थ्य के लिए लाभदायक (Garlic health benefits in hindi) माना जाता है। लहसुन को शहद के साथ सेवन करने से शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत होता है।

यह शरीर को रोगों से लड़ने की शक्ति प्रदान करने के साथ साथ शरीर से विषाक्त पदार्थों को भी बाहर निकालने का काम करता है। यह पढें- रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के घरेलू उपाय

ह्रदय रोगों में लहसुन के फायदे

लहसुन के सेवन से शरीर में एल डी एल (LDL-Cholesterol) यानी खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद मिलती है तथा यह हाई ब्लड प्रेशर को भी नियंत्रित करने में मददगार होता है क्योंकि लहसुन में बायोएक्टिव सल्फर योगिक, एस-एललिससिस्टिन जैसे तत्व होते हैं जो ब्लड प्रेशर के लेवल को कम करने में मदद करते हैं।

सुबह खाली पेट लहसुन की कलियों को चबाकर खाने या शहद के साथ लहसुन के रस का नियमित सेवन करने से हार्ट रोगों से बचा जा सकता है।

पुरानी खाँसी में लहसुन के फायदे

खाँसी की समस्या ज्यादा समय तक रहने से टी बी जैसी बीमारी का खतरा रहता है। इससे बचने के लिए 50 ग्राम लहसुन का रस, 50 ग्राम शहद और 50 ग्राम अदरक का रस मिलाकर कांच की शीशी में डालकर रख ले।

दिन में दो से तीन बार एक एक चम्मच की मात्रा में सेवन करने से पुरानी खांसी या काली खांसी में लाभ मिलता है। इसके अलावा लहसुन की कलियों को मनुक्का के साथ खाने से भी खांसी की समस्या से छुटकारा मिलता है।

पेट मे कीड़े होने पर लहसुन के फायदे

पेट में होने वाली कीड़ो की समस्या से छुटकारा दिलाने में भी लहसुन मददगार होता है। इसके लिए लहसुन की कलियों को छीलकर छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर शहद के साथ दिन में दो से तीन बार एक हफ्ता तक सेवन करने से पेट में होने वाले कीड़ों से छुटकारा मिलता है।

बच्चों में अक्सर पेट मे कीड़ो की समस्या होती रहती है इसलिए बच्चों को गुड़ खिलाकर ऊपर से लहसुन के रस में शहद मिलाकर खिलाने से पेट के कीड़े मर जाते हैं।

लकवा रोग में लहसुन के फायदे

लकवा रोग से छुटकारा पाने के लिए एक कप दूध में लहसुन की 2 से 3 कलियां और बायबिडंग 3 ग्राम डालकर उबालें जब आधा बच जाए छानकर इसका सेवन करने से लकवा के अलावा गठिया बाय, साइटिका का दर्द, पेट का अफारा आदि समस्याओं राहत मिलती है तथा पेरालीसिस के कारण शरीर के एक तरफ के हिस्से में आई कमजोरी दूर करने व ब्लूड सर्कुलेशन को सही करने में मदद मिलती है। यह पढें- लकवा रोग में डाइट प्लान

यौन शक्ति बढ़ाने में लहसुन के फायदे

शरीर मे किसी प्रकार की कमजोरी या यौन कमजोरी से राहत पाने के लिए लहसुन को फायदेमंद (Garlic health benefits in hindi) व कारगर औषधि माना जाता है। इसके लिए ढाई सौ ग्राम लहसुन छीलकर काटकर ढाई सौ ग्राम घी में भुनकर 1 किलो दूध में गाढ़ा हो जाने तक पकाएं अच्छी तरह से पकने के बाद कांच के जार में डालकर रख लें। एक चम्मच की मात्रा में दूध या पानी के साथ नियमित सेवन करने से संभोग शक्ति में वृद्धि होती है। यह यौन दुर्बलता व शारीरिक कमजोरी दूर करने में भी लाभकारी होता है।

सफेद दाग में लहसुन के फायदे

त्वचा रोगों व सफेद दाग से बचने के लिए लहसुन के रस 50 ग्राम में 1 ग्राम नौसादर पीसकर मिलाकर नियमित त्वचा पर लगाने से सफेद दाग, दाद, सफेद कोढ़ व चंबल आदि रोग ठीक हो जाते हैं। इसके अलावा लहसुन का सेवन खून साफ करने का भी काम करता है।

जिससे शरीर के दाग धब्बों व त्वचा रोगों से छुटकारा पाया जा सकता है। लहसुन की दो कलियों को सुबह गुनगुने पानी के साथ चबाकर खाने से स्किन संबंधी समस्याओं से छुटकारा मिलता है।

पेट के लिए लहसुन के फायदे

लहसुन पाचन संबंधी समस्याओं में फायदेमंद होता है। एक किलो दूध में आधा लीटर पानी मिलाकर इसमें 60 ग्राम लहसुन की छिली हुई कलियां डालकर धीमी आंच पर पकाएं, पानी जल जाने व आधा बचने पर इसको ठंडा करके किसी पात्र में डालकर रखें।

दिन में तीन बार दो दो चम्मच की मात्रा में नियमित सेवन करने से पेट में होने वाली समस्याएं जैसे पेट का अफारा, हिस्टीरिया, आँतो की सूजन, वात रोग व अन्य रोगों में लाभ (Garlic health benefits in hindi) मिलता है। यह रक्त धमनियों को भी नर्म बनाता है और फेफड़ों को ताकत देता है। लहसुन भूख बढ़ाता है, चर्बी व प्रोटीन को अलग करता है और शरीर मे ऑक्सीजन की पूर्ति करता है।

उच्च रक्तचाप में लहसुन के फायदे

हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से राहत पाने के लिए 25 ग्राम छिले हुए लहसुन की कलियों को सौ ग्राम अल्कोहल में डालकर कांच की बोतल में डालकर टाइट ढक्कन लगाकर सात दिनों तक रख दे, सात दिन बाद इसकी 7-8 बुंदे पानी में डालकर सुबह-शाम नियमित सेवन करने से उच्च रक्तचाप (हाई ब्लड प्रेशर) सामान्य हो जाता है और हृदय मजबूत होता है।

मधुमेह रोग में लहसुन के फायदे

लहसुन का नियमित सेवन डायबिटीज के रोगियों में ब्लड शुगर लेवल को कम करने में लाभदायक होता है। त्रिफला के साथ लहसुन की कलियों का नियमित सेवन करने से मधुमेह में लाभ मिलता है।

एक गिलास दूध में एक चम्मच लहसुन का रस डालकर सुबह शाम नियमित पीने से वात के सभी रोग ठीक हो जाते हैं। डायबिटीज के रोगी को सुबह खाली पेट लहसुन की दो कलियां चबाकर खाने से फायदा मिलता है। यह पढें- मधुमेह में आहार चार्ट

बुखार में लहसुन के फायदे

सर्दियों के मौसम में होने वाली खांसी, जुखाम बुखार व गले की की समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए दूध के साथ लहसुन को उबालकर नियमित सेवन करने से खांसी, जुकाम में राहत मिलने के साथ-साथ गले संबंधी सभी समस्याओं से छुटकारा मिलता है तथा इसके नियमित सेवन से सर्दी से बचाव होने के साथ-साथ ठंड भी कम लगती है क्योंकि यह शरीर में गर्माहट पैदा करने में उपयोगी होता है।

इसके अलावा टाइफाइड या मियादी बुखार की समस्या से छुटकारा पाने के लिए दिन में तीन बार एक एक चम्मच लहसुन का रस सेवन करने से राहत मिलती है।

दांत दर्द में लहसुन के फायदे

दाँतो में होने वाली सड़न, दर्द या कीड़े लगने की समस्याओं से छुटकारा दिलाने में भी लहसुन मददगार होता है। इसके लिए लहसुन की एक कली को छीलकर गर्म करके दर्द वाले दांत या दाढ़ पर रखकर चबाने से दांत का दर्द ठीक होता है तथा दांत में होने वाली समस्याओं से भी छुटकारा मिलता है।

लहसुन की कलियों को चबाने से मसूड़े भी मजबूत होते है व दाँतो में होने वाली केविटी की समस्या से भी राहत दिलाने में लहसुन मददगार होता है।

कान दर्द में लहसुन के फायदे

कान दर्द की समस्या होने पर लहसुन का रस 10 ग्राम, सिंदूर 5 ग्राम और 100 ग्राम तिल के तेल में डालकर इसे पकाएं, अच्छी तरह से पक जाने के बाद छानकर किसी कांच की शीशी में डालकर रख लें। इसकी एक बूंद कान में डालने से कान का बहना, बहरापन या कान के दर्द जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता है। तथा इस तेल से मालिश करने पर जोड़ों का दर्द या गठिया रोग में भी लाभ मिलता है।

इसके अलावा छिले हुए लहसुन की 8 से 10 कलियों को 50 ग्राम बादाम रोगन में डालकर गर्म करें। जब तक कलियां काली ना हो जाए तब तक धीमी आंच पर पकाएं, ठंडा होने पर इसको छानकर कांच की सीसी में डालकर रखें। इसकी एक एक बूंद कान में डालने से कान के दर्द के साथ साथ कान के सभी रोग ठीक हो जाते हैं।

कब्ज के लिए लहसुन के फायदे

लहसुन के रस का शहद के साथ मिलाकर नियमित सेवन करने से आँतो में चिपका हुआ मल बाहर निकालकर कब्ज से छुटकारा दिलाने में यह कारगर होता है। साथ ही यह भूख भी बढ़ाता है और पाचन शक्ति को मजबूत बनाने में भी लहसुन मददगार होता है।

यह पेट की वायु निकालता है व बदहजमी, खट्टी डकारें व कब्ज को ठीक करता है। इसके अलावा यह शरीर में जमा हुआ कफ को बाहर निकालने में भी मददगार होता है। यह पढें- कब्ज दूर करने के घरेलू उपाय

बालों के लिए लहसुन के फायदे

बालों में होने वाली समस्याएं जैसे डैंड्रफ, रूसी, गंजापन या बाल झड़ने की समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए 10 ग्राम सुरमें को लहसुन के रस में मिलाकर बालों में लगाने से झड़ते हुए बाल रुक जाते हैं।

यह गंजेपन की समस्या में भी नए बाल उगाने में सहायक होता है तथा इसको नियमित बालों में लगाने से बालों संबंधित सभी समस्याओं से छुटकारा मिलने के साथ-साथ असमय सफेद होते बालों की समस्या से राहत दिलाने में भी लहसुन खाना फायदेमंद (Garlic health benefits in hindi) होता है

लहसुन के अन्य फायदे (Other health benefits of garlic in hindi)

  • सर्दियों के मौसम में सुबह खाली पेट लहसुन खाने से सर्दी जुखाम जैसी समस्याओं से छुटकारा पाने में मदद मिलती है।
  • सुबह खाली पेट लहसुन का सेवन करने से किडनी के रोग  या किडनी में संक्रमण के खतरे को कम किया जा सकता है।
  • लहसुन का सेवन नियमित सुबह खाली पेट करने से पाचन तंत्र मजबूत होता है।
  • सुबह खाली पेट लहसुन की दो कलियां खाकर गुनगुना पानी पीने से शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद मिलती है।
  • यह डायबिटीज और कैंसर जैसी बीमारियों से बचाने में भी है मददगार होता है।
  • लहसुन का सेवन नियमित करने से टि बी जैसी बीमारी होने का खतरा भी कम किया जा सकता है।
  • नियमित लहसुन का सेवन करने से शरीर का वजन भी नियंत्रित रहता है तथा मोटापे से भी छुटकारा पाने में मदद मिलती है।

लहसुन के नुकसान (Side effects of garlic in hindi)

लहसुन का सेवन करने के फायदों (Garlic health benefits in hindi) के साथ-साथ इसे खाने से कुछ नुकसान भी हो सकते हैं जैसे

  • अगर किसी को मुंह से बदबू आने की समस्या है तो उन्हें लहसुन का सेवन करने से बचना चाहिए क्योंकि यह मुंह की बदबू को और बढ़ा सकता है।
  • किसी को गैस्टिक प्रॉब्लम हो तो उन्हें लहसुन का सेवन करने से बचना चाहिए या कम मात्रा में करना चाहिए क्योंकि एसिडिटी की समस्या में लहसुन का सेवन नुकसानदायक हो सकता है।
  • कच्चे लहसुन का अधिक मात्रा में सेवन करने से सिर दर्द की समस्या हो सकती है इसलिए जिन लोगों को माइग्रेन के सिरदर्द की समस्या रहती है। उनको इसका सेवन कम मात्रा में करना चाहिए।

FAQ

Q 1. खाली पेट कच्चा लहसुन खाने से क्या होता है?

Ans  कच्चा लहसुन ब्लड सर्कुलेशन को सुधारने में मददगार होता है इसलिए हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से राहत पाने के लिए नियमित सुबह खाली पेट कच्चा लहसुन खाने की सलाह दी जाती है। इसके अलावा पेट से संबंधित बीमारियां जैसे डायरिया और कब्ज की समस्या को दूर करने में भी कच्चा लहसुन उपयोगी माना जाता है।

Q 2. क्या ह्रदय रोग में लहसुन का सेवन किया जा सकता है?

Ans  सुबह खाली पेट लहसुन की दो कलियों को चबाकर गुनगुना पानी पीने के कोलेस्ट्रॉल तथा ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है। यह प्राकृतिक रूप से रक्त को पतला करने के साथ ब्लड क्लोटिंग को भी रोकता है जिसके कारण शरीर में रक्त संचार ठीक से होता है और हार्ट से सम्बंधित रोगों से बचा जा सकता है।

Q 3. क्या लहसुन खाने से वजन कम होता है?

Ans  लहसुन में कई ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो वजन घटाने में मददगार है साथ ही यह मेटाबॉलिज्म को भी बूस्ट करता है। नियमित सुबह खाली पेट पानी के साथ कच्चा लहसुन खाने से शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने में मदद मिलती है और वजन कम होने के साथ साथ अनेक प्रकार की बीमारियों से भी बचा जा सकता है।

इस लेख लहसुन खाने के फायदे (Garlic health benefits in hindi) के बारे में कोई भी सुझाव या सवाल हो तो Comment बॉक्स में लिखें तथा पोस्ट को शेयर अवश्य करें।

इन्हें भी पढ़े

Leave a Comment