Black fungus symptoms | ब्लैक फंगस क्या है सम्पूर्ण जानकारी  

ब्लैक फंगस क्या है इसके लक्षण और बचाव : Black fungus symptoms and precaution in hindi

दोस्तों एक बार फिर से आपका स्वागत है आज के लेख में जानेगे Mucormycosis या ब्लैक फंगस क्या है इसके लक्षण यानि Black fungus symptoms इसका उपचार Black fungus से बचने के तरीके तथा किन लोगो को ब्लैक फंगस से अधिक खतरा है विषेशज्ञों का मानना है की जिन लोगो को कोरोना वायरस ने अपनी चपेट में लिया था उनको उनमे ब्लैक फंगस के लक्षण (Black fungus symptoms) और इसका अधिक खतरा है। जानिए ब्लैक फंगस क्या है सम्पूर्ण जानकारी

Black fungus symptoms

अभी तक लोग कोविड-19 से पूरी तरह से उभर ही नहीं पाए थे की एक नई महामारी ब्लैक फंगस ने अपनी चुनौती बढ़ा दी है और काफी लोगों में इसके लक्षण यानि Black fungus symptoms दिखाई देने लगे है। ब्लैक फंगस संक्रमण से अब तक काफी लोग संक्रमित हो चुके हैं तथा कुछ लोगों की ब्लैक फंगस से मौत भी हो चुकी है।

ज्यादातर मामलों में कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हो चुके लोगों के ठीक होने के बाद साइड इफेक्ट के रूप में ब्लैक फंगस के मामले सामने आ रहे हैं। डॉक्टर्स का मानना है कि कोरोना से संक्रमित हुए लोगों को हाई रिस्क मेडिसिन स्टेरॉयड आदि के अधिक प्रयोग के कारण Black fungus संक्रमण फैल रहा है।

क्या है ब्लैक फंगस : what is black fungus

ब्लैक फंगस एक फंगल इंफेक्शन है इसको म्यूकोर्मीकोसिस Mucormycosis के नाम से भी जाना जाता है। यह संक्रमण आंख, नाक, दिमाग व साइनस में तेजी से फैलता है। जिन लोगों का इम्यून सिस्टम अधिक कमजोर है यह इन लोगों को अपना शिकार ज्यादा बनाता है। Black fungus kya hai जानने के बात जानते हैं इसके लक्षण Symptoms of black fungus क्या है 

ब्लैक फंगस के लक्षण / Black fungus symptoms

ICMR द्वारा दिशानिर्देशों के अनुसार Black fungus फंगल इंफेक्शन या शरीर पर दिखने वाले लक्षणों को हल्के में लेना लोगों को भारी पड़ सकता है। कोरोना से शिकार हुए मरीजों के लिए बहुत ही चिंता की स्थिति उत्पन्न हो गई है एक तरफ जहां कोरोना की दूसरी लहर परवान पर है तीसरी लहर किसी भी वक्त दस्तक देने को तैयार है अस्पतालों में संक्रमण के मामले काफी सामने आ रहे हैं इसलिए इसके लक्षणों Black fungus symptoms के बारे में सभी को जानकारी होना जरूरी है।

आँखो के लक्षण

विशेषज्ञों द्वारा बताया जाता है कि जैसे जैसे Black fungus किसी को चपेट में लेता है तो उसकी आंखों पर प्रभाव पड़ता है आंखों में सूजन और रोशनी कमजोर होना भी इसके लक्षण बताए जाते हैं आंखों का लाल होना भी फंगल इंफेक्शन के मुख्य लक्षणों में से एक है।

चेहरे के लक्षण

अगर किसी को यह है इंफेक्शन होगा तो उसको गाल की हड्डी में दर्द एक साइड या दोनों साइड हो सकता है ये Black  fungus के शुरुआती लक्षण है बढ़ने के बाद इसकी वजह से चेहरे पर सूजन व घाव भी हो सकता है स्किन से संबंधित और भी समस्याओं (Skin problems) को यह इंफेक्शन जन्म देता है।

मस्तिष्क से जुड़े लक्षण

एक्सपर्ट बताते हैं कि फंगल इन्फेक्शन होने के कारण यह मस्तिष्क को भी प्रभावित कर सकता है इसकी वजह से न्यूरोलॉजिकल समस्या, मानसिक स्वास्थ्य संबधी समस्याएं, भूलने की समस्या आदि हो सकती है ऐसे में इससे सतर्क रहना बहुत आवश्यक है।

असहनीय सिरदर्द

यह साइनस केवीटी और नर्वस सिस्टम पर अटैक करता है इसके कारण भयंकर सिरदर्द का सामना करना पड़ सकता है इसलिए डॉक्टर्स का कहना है कि इसके शुरुआती लक्षणों को गंभीरता से लेना चाहिए।

आंखों और नाक के पास काले धब्बे

सबसे पहले इसके लक्षण चेहरे पर दिखाई देते हैं शुरुआत में आंखें और नाक के पास काले और लाल धब्बे हो जाते हैं। अगर समय पर समस्या का समाधान नहीं हो तो दांत और जबड़े से हाथ धोना पड़ सकता है।

ब्लैक फंगस से बचने के तरीके : Black fungus precaution tips in hindi

इस संक्रमण से बचने के लिए विशेषज्ञों द्वारा कुछ सावधानियां रखने की सलाह दी जाती है जिनसे इम्यून सिस्टम भी मजबूत रहे तथा जिन लोगों को कोई अन्य बीमारी है उन लोगों को ब्लैक फंगस से विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

  1. पोषक तत्व युक्त आहार का सेवन व इम्यून सिस्टम मजबूत रखें
  2. डायबिटीज को नियंत्रित रखने का प्रयास करें
  3. अधिक धूल मिट्टी व प्रदूषित वातावरण के संपर्क में आने से बचें
  4. साफ़ व शुद्ध पानी पीने का ही प्रयास करें
  5. हाई रिस्क दवाओं या स्टेरॉयड का प्रयोग कम से कम करने का प्रयत्न करें

ब्लैक फंगस का उपचार : Black fungus treatment 

इस संक्रमण (Mucormycosis) की चपेट में आने या अगर अगर किसी को ब्लैक फंगस के किसी भी प्रकार के लक्षण यानि Black fungus symptoms दिखाई देते हैं तो तुरंत चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए इस संक्रमण का इलाज करने के लिए बिना चिकित्सक की सलाह के किसी भी प्रकार की मेडिसिन का प्रयोग करना उचित नहीं है।

ब्लैक फंगस इंफेक्शन का इलाज करने के लिए तीन चरणों को अपनाया जाता है। पहले चरण में संक्रमण के कारणों का पता लगा कर उन्हें दूर किया जाता है तथा बॉडी में शुगर, ब्लड प्रेशर आदि के स्तर को चेक करने के साथ साथ अन्य बीमारियों का पता लगाया जाता है।

दूसरे चरण में इससे संक्रमित हो चुके मरीजों को दूसरे लोगों से अलग करके दवाओं के द्वारा उपचार करने के प्रयत्न किए जाते हैं।

तीसरे चरण में सर्जरी के द्वारा एग्रेसिव तरीके से डेड हो चुके टिश्यू हटाए जाते हैं ताकि फंगस को और अधिक फैलने से रोका जा सके।

किन लोगों को ब्लैक फंगस से अधिक खतरा है

कुछ लोगो में ब्लैक फंगस का खतरा अधिक है इसलिए उन लोगो को इससे सचेत रहने की अधिक आवश्यकता है

  • जो लोग कोविड-19 से संक्रमित हुए हो उन लोगों को विशेष सावधानी रखने की जरूरत है
  • डायबिटीज के रोगी या इम्यून सिस्टम कमजोर वाले लोगों को विशेष सावधानी रखनी चाहिए
  • किसी गंभीर बीमारी जैसे कैंसर, किडनी रोग या एड्स जैसी बीमारी की दवाओं का इस्तेमाल करने वाले लोगों को सावधानी रखनी चाहिए
  • जिन लोगों द्वारा अधिक स्टेरॉयड का प्रयोग किया हो उन्हें सावधान रहना चाहिए

ब्लैक फंगस में सावधानियां और बचाव के लिए सलाह

जिन लोगों को शुगर की बीमारी है उन्हें ब्लैक फंगस का शुरुआती दौर में पता लगाना बहुत आवश्यक है क्योंकि इन रोगियों में यह इंफेक्शन बढ़ने पर स्ट्रांग दवाओं का इस्तेमाल करने से किडनी या शरीर के अन्य अंगों पर विपरीत प्रभाव पड़ने का खतरा बना रहता है।

स्टेरॉयड का इस्तेमाल सिर्फ चिकित्सक की देखरेख व सलाह पर ही करें व एंटीबायोटिक्स या एंटीफंगल दवाओं का इस्तेमाल भी जरूरत पड़ने पर डॉक्टर की सलाह पर ही करें Black fungus से बचने के लिए इसके लक्षणों (Black fungus symptoms) को बिल्कुल भी नजरअंदाज ना करें अगर किसी को भी ऐसी समस्या हो तो तुरंत चिकित्सक से संपर्क करें।

FAQ

Q 1. क्या ब्लैक फंगस जानलेवा है?

Ans यह (Mucormycosis) एक बहुत ही खतरनाक इंफेक्शन होता है अगर समय रहते इसका इलाज (Black fungus treatment) न किया जाए तो यह जानलेवा भी हो सकता है। देश और विदेश में ब्लैक फंगस के कारण कई लोगों की मौत हो चुकी है। इसलिए इसको लेकर सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

Q 2. ब्लैक फंगल इन्फेक्शन की पहचान कैसे करें?

Ans कोरोनावायरस से संक्रमित हो चुके मरीजों में ब्लैक फंगल इन्फेक्शन काफी तेजी से फैलता है। अगर किसी को नाक बंद, नाक से खून आना, गालों की हड्डियों में दर्द या सूजन, आंखों में दर्द धुंधला दिखाई देना या डबल विजन, आंखों के आसपास सूजन, सांस लेने में कठिनाई या सीने में दर्द जैसे कोई भी लक्षण यानि Black fungus symptoms दिखाई दे तो तुरंत ब्लैक फंगस की जांच करवानी चाहिए।

इस आर्टिकल में दी गई Black fungus से जुड़ी तमाम जानकारियो को सूचनात्मक उद्देश्य से लिखा गया है कोई भी समस्या होने पर चिकित्सक से परामर्श जरूर करें।

यह आर्टिकल ब्लैक फंगस क्या है Black fungus symptoms आपको जरूर पसंद आया होगा पसंद आये तो इसे शेयर जरूर करें तथा कमेंट भी करके बताएं ताकि आगे और भी स्वास्थ्य वर्धक जानकारी युही आप तक पहुँचती रहेI

-: लेख को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद :-

इन्हें भी पढ़ें-

Share This Product

Leave a Comment