कमर दर्द का कारण और घरेलू इलाज | Back pain treatment in hindi

पीठ दर्द का घरेलू उपचार (Back pain treatment at home in hindi)

आजकल कमर दर्द व पीठ में होने वाला दर्द सिर्फ वृद्धावस्था में ही नहीं बल्कि कम उम्र के लोगों को भी अपनी चपेट में लेने लगा है। इसलिए लोग कमर दर्द के इलाज यानि Back pain treatment के लिए तरह तरह के उपाय करते है। आज के समय बदलती जीवन शैली के कारण पीठ व कमर दर्द की समस्या एक गंभीर समस्या बनती जा रही है और समय रहते Back pain treatment जरूरी है ।

निरोगी हेल्थ के इस आर्टिकल में जानेगे क्यों होता है कमर में दर्द कमर दर्द का कारण, कमर दर्द से छुटकारा पाने के घरेलू उपाय और कमर दर्द में क्या खाना चाहिए आइये जानते है कमर दर्द का कारण और घरेलू इलाज Back pain treatment in hindi

Back pain treatment

अनियंत्रित खान-पान के कारण कैल्शियम, विटामिन की कमी, रूमेटायड, अर्थराइटिस, कोशिकाओं की बीमारी, तन्तुओं एवं मांसपेशियां में खिंचाव कमजोरी , गर्भाशय में सूजन, मासिक गड़बड़ी, गलत आसनों के प्रयोग आदि कारणों से पीठ, गर्दन व कमरदर्द की समस्या होना आज के समय आम बात हो गई है।

शरीर में जरूरी पोषक तत्वों की कमी, भारी वजन उठाना, झटका लगना,चोट लगना अधिक उम्र के कारण कमर में दर्द होना मुख्य समस्या है। इस समस्या से राहत पाने के लिए नियमित पैन किल्लर का सेवन करना मजबूरी बन गयी है।

क्योंकि पैन किल्लर खाने से दर्द से कुछ पल राहत मिलती है। लेकिन आयुर्वेद के इन घरेलू उपायों को आजमा कर इस समस्या से छुटकारा (Treatment for back pain) पा सकते हैं।

कमर दर्द के कारण (Back pain causes in hindi)

कई बार अचानक झुकने के कारण झटका लग जाता है इसके कारण भी कमर में दर्द शुरू हो जाता है एकदम से भारी वजन उठाने के कारण भी दर्द होने लग जाता है बढ़ती उम्र के कारण मांसपेशियां और हड्डियां कमजोर होना शुरू हो जाती है जिससे डिस्क पर दबाव पड़ता है यह भी दर्द का कारण होता है।

कई बार ऑपरेशन में लगने वाले इंजेक्शन के कारण भी दर्द रहने लग जाता है महिलाओं में प्रेगनेंसी में बढ़ते वजन से भी समस्या हो जाती है इसके अलावा कमर में दर्द के और भी बहुत से कारण है जैसे

  • वजन बढ़ने के कारण
  • शारीरिक एक्टिविटी ना करने के कारण
  • महिलाओं में मासिक व गर्भावस्था के दौरान
  • कैल्शियम की कमी के कारण
  • विटामिंस की कमी के कारण   
  • मांसपेशियों में खिंचाव के कारण
  • गर्भाशय में सूजन व अनियमित मासिक के कारण
  • गलत आसनों के प्रयोग के कारण
  • देर तक बैठने व ज्यादा भारी चीज उठाने से के कारण

ज्यादा बैठे रहना, शारीरिक एक्टिविटीज न करना , ज्यादा खाने पीने के कारण मोटापा होना आदि कारणों से अधिकतर लोगों को कमर में दर्द की समस्या का सामना करना पड़ता है। शरीर का इम्यून सिस्टम कमजोर होने के कारण भी शरीर की मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द होने लगता है।

यह पढ़ें ~ रोगप्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ाये

कमर दर्द का घरेलू उपाय (Back pain treatment tips in hindi)

खसखस का सेवन

शरीर में होने वाले किसी भी दर्द या पीठ, कमर व गर्दन दर्द की समस्या से राहत पाने के लिए खसखस यानि Posta dana एक रामबाण इलाज है। इसके लिए खसखस और मिश्री को बराबर मात्रा में मिलाकर पाउडर बनाकर रख लें। एक एक चम्मच एक गिलास दूध में डालकर उबालकर सुबह-शाम नियमित सेवन करने से कमर और पीठ दर्द से छुटकारा मिल जाता है।

लहसुन का प्रयोग

इस प्रकार के होने वाले दर्द से राहत पाने के लिए लहसुन को उपयोगी माना जाता है। इसके लिए रोज सुबह खाली पेट लहसुन की दो से तीन कलियों का सेवन करना लाभदायक माना जाता है। इसके सेवन से केवल पीठ दर्द ही नहीं बल्कि शरीर में होने वाले किसी भी प्रकार के दर्द से छुटकारा मिल जाता है।

इसके अलावा लहसुन का तेल बनाने के लिए नारियल के तेल, सरसों और तिल के तेल में लहसुन की कलियां डालकर इसे तब तक उबाले जब तक लहसुन की कलियां काली न पड़ जाए उसके बाद इस तेल को छानकर ठंडा होने के बाद इस तेल से दर्द वाली जगह पर मसाज करने से तुरंत आराम मिलता है।

इसे भी पढ़ें – लहसुन के फायदे और सेवन करने के तरीके क्या है

गेंहू का सेवन

शरीर में होने वाले किसी भी दर्द से राहत पाने के लिए रात को एक मुट्ठी गेहूं को पानी में भिगोकर रखें सुबह इस गेहूं को पानी से निकाल कर एक गिलास दूध में डालकर गर्म करें और ठंडा होने के बाद पिए ऐसा नियमित दिन में दो बार करने से कमर और पीठ के दर्द के साथ साथ किसी भी प्रकार के छुटकारा मिल जाता है।

Back pain treatment in hindi

कमर दर्द का आयुर्वेदिक इलाज (Home Remedies for back pain in hindi)

  • लहसुन हमें बैक पैन के साथ-साथ कई बीमारियों से छुटकारा दिला सकता है इसके लिए लहसुन की एक दो कलियां नियमित सुबह के समय चबाकर खाना दिनचर्या का हिस्सा बना ले यह शरीर में किसी भी दर्द से आराम दिलाने में सहायता करता है।
  • एक गिलास गर्म दूध में एक चम्मच मेथी पाउडर और एक चम्मच शहद व एक चौथाई चम्मच हल्दी डालकर सोते समय सेवन करने से पीठ दर्द घुटने का दर्द या शरीर में किसी भी प्रकार के दर्द से छुटकारा दिलाने में मददगार है।
  • बैक पैन से छुटकारा पाने के लिए 100 ग्राम खसखस के साथ 100 ग्राम मिश्री मिलाकर चूर्ण बनाकर रख लें रोजाना सुबह और रात को सोते समय दूध में इस मिश्रण का एक चम्मच डालकर इसको उबालकर नियमित पीने से पीठ दर्द व घुटने के दर्द से राहत के साथ-साथ शरीर के किसी भी दर्द से छुटकारा दिलाने में बहुत ही सहायक है इसलिए इसका सेवन नियमित करते रहें।
  • कमर में होने वाले दर्द से छुटकारा पाने में अजवाइन भी बहुत सहायक है लगातार दर्द होने पर थोड़ी सी अजवाइन तवे पर गर्म करके इसे चबाकर खाएं ऊपर से गुनगुना पानी पी ले इससे दर्द में राहत दिलाती है।
  • तिल का तेल भी पीठ दर्द दूर करने में हेल्प करता है क्योंकि यह बहुत गर्म होता है जो कि मांसपेशियों को आराम दिलाता है इस तेल की दर्द वाली जगह मालिश करें।

कमर दर्द के लिए तेल (Back pain treatment oil in hindi)

सरसों का तेल 50 ग्राम, तिल का तेल 50 ग्राम, लहसुन की कलियां 10 पीस, अदरक 20 ग्राम, मेथी दाना 4 बड़े चम्मच, अजवायन 4 बड़े चम्मच, लौंग 10 पीस, दालचीनी 5 ग्राम, एलोवेरा 25 ग्राम और देशी कपूर 25 ग्राम

तेल बनाने की विधि

सबसे पहले सरसों का तेल गर्म करना है उसके बाद तिल का तेल डालना है उसके बाद लहसुन और बाद में सभी सामग्री डालनी है गर्म करते रहे सबसे लास्ट में एलोवेरा डालना है और गर्म करते रहे फिर ठंडा करके छान लें और बोतल में भरकर 100 ग्राम तेल में 25 ग्राम कपूर डाल कर रख ले।

तेल का प्रयोग कैसे करें

कमर या घुटने दर्द या बॉडी में कहीं भी दर्द हो इस तेल की नियमित मालिश करें और ऊपर से सूती कपड़ा लपेट लें। इसका प्रयोग नियमित करते रहने से दर्द से छुटकारा मिल जाता है।

  • गठिया, कमर दर्द, जोड़ो में दर्द, मांसपेशियों की कमजोरी जैसी अनेक समस्याओं से बचने के लिए काला गोंद रामबाण इलाज है इसलिए कम कीमत में घर बैठे मंगवाने के लिए अभी ऑर्डर करें

कमर दर्द में जीवनशैली में बदलाव

बैक पैन की समस्या से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपचार और खानपान में बदलाव के साथ साथ जीवनशैली में भी सामान्य से बदलाव करना जरूरी होता है।

  • शरीर में लचीलापन और अच्छी शारीरिक मुद्रा बनाए रखने के लिए योग और व्यायाम बहुत ही ज्यादा जरूरी है नियमित योग व्यायाम करने से हमारा शरीर लचीला और मजबूत बनता है योग करने से तनाव भी कम होता है शरीर को मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ और मजबूत बनाने के लिए इन सब को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाएं।
  • योगासन में मकरासन नियमित करना इस समस्या में बहुत सहायक है।
  • पौष्टिक आहार का भरपूर मात्रा में सेवन करें क्योंकि शरीर में पोषक तत्वों की कमी भी इस समस्या का बड़ा कारण है कमरदर्द से बचने के लिए प्रोटीन, आयरन, कैल्शियम (Calcium rich foods), पोटेशियम युक्त आहार का सेवन प्रचुर मात्रा में करना चाहिए।
  • देश में बहुत से लोग वह चाहे पुरुष हो या महिला कमर दर्द की समस्या से परेशान है लेकिन इस दर्द को अनदेखा करना उचित नहीं है क्योंकि बाद में यह परेशानी विकराल रूप धारण कर सकती है।

FAQ

Q 1. कमर में पीठ में दर्द क्यों होता है?

Ans   पीठ घुटनों व जोड़ों में दर्द का मुख्य कारण कैल्शियम की कमी होता है। इसके अलावा उम्र बढ़ने के साथ-साथ जोड़ों का आकार बढ़ने के कारण भी दर्द हो सकता है। अधिक वजन उठाने से, झटका लगने से या कोई चोट आदि लगने के कारण भी दर्द होने जैसी समस्याएं उत्पन्न हो सकती है।

Q 2. कमर में बहुत ज्यादा दर्द हो तो क्या करना चाहिए?

Ans  इस प्रकार के दर्द से छुटकारा पाने के लिए सेंधा नमक को गर्म करके इससे दर्द वाली जगह पर सिकाई करें। इसके अलावा एक गिलास गर्म दूध में एक चम्मच मेथी का पाउडर और एक चम्मच शहद डालकर थोड़ी सी हल्दी मिलाकर पीने से भी कमरदर्द में राहत मिलती है।

Q  3. घुटनों में कट कट की आवाज है तो क्या करें?

Ans  घुटनों और जोड़ों में कट कट की आवाज आने का मुख्य कारण है की हड्डियों में हवा आ जाना है इसके कारण हड्डियों के जोड़ में एयर बबल बनते हैं और टूटते रहते हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए हल्दी वाले दूध का नियमित सेवन करना चाहिए इससे शरीर में कैल्शियम की पूर्ति होती है। इसके अलावा गुड़ और भुने हुए चने का नियमित सेवन करने से भी कट कट की समस्या से राहत मिलती है।

निष्कर्ष (Conclusion)

आज के इस आर्टिकल में हमने जाना कमर दर्द का कारण, लक्षण और कमर दर्द का घरेलू उपचार (Back pain treatment tips) क्या है तथा क्या खाने से कमर के दर्द में आराम मिलता है। इस लेख के बारे में आपके कोई भी सवाल या सुझाव हो तो निचे कमेंट बॉक्स में लिख सकते है।

इस आर्टिकल में दी गई सेहत से जुड़ी तमाम जानकारियों को सूचनात्मक उद्देश्य से लिखा गया है किसी भी सुझाव को आजमाने से पहले चिकित्सक से परामर्श जरूर करें।

आपको हमारा ये आर्टिकल कमर दर्द का घरेलू इलाज Back pain treatment in hindi कैसा लगा Comments करके जरुर बताएं तथा लेख को सोशल मिडिया पर अपने दोस्तों व परिवार के लोगों के साथ शेयर करना न भूलें ताकि किसी जरूरतमंद की सहायता हो सके।

-: लेख को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद :-

इन्हें भी पढ़ें-

Share This Product

Leave a Comment