शरीर में खून की कमी I थकान I कमजोरी I Anemia Treatment I in hindi

शरीर में खून की कमी कैसे दूर करें (Blood deficiency treatment at home in hindi)

आजकल शरीर मे खून की कमी एक आम समस्या है जब हमारे शरीर के खून में हीमोग्लोबिन का स्तर सामान्य से भी निचे चला जाता है तो थकान, कमजोरी, बदनदर्द, खून की कमी जैसी बीमारी होती है। हीमोग्लोबिन हमारे शरीर में ऑक्सीजन की पूर्ति करने का काम भी करता है इसलिए ब्लड में हीमोग्लोबिन की मात्रा को ठीक रखना बहुत जरूरी होता है। निरोगी हेल्थ के इस आर्टिकल में जानेगे खून की कमी क्या है, खून की कमी लक्षण, कारण और शरीर में खून की कमी दूर करने के घरेलू उपाय क्या है आइये जानते है शरीर में खून की कमी I थकान I कमजोरी I Anemia Treatment I in hindi

आज के समय में अनियमित दिनचर्या और खान-पान के कारण कई तरह की बीमारियां पैदा होना शुरू हो गई है। इनमें खून की कमी प्रमुख समस्या है। जो अधिकांश महिलाओं में पाई जाती है। इसके कारण कमजोरी, थकान, बदन दर्द, भूख न लगना, सिर दर्द जैसी समस्याएं उत्पन्न होती है।

हमारे शरीर में रक्त कोशिकाओं के कम होने से शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता कम होने लगती है। जिसके कारण कई तरह की बीमारियां होने का खतरा पैदा होता है। इन घरेलू नुस्खे, स्वस्थ जीवनशैली, हेल्दी डाइट, पर्याप्त नींद आदि को अपनाकर खून की कमी से होने वाली बीमारियों से बचा जा सकता है।

खून की कमी क्या है (What is blood deficiency in hindi)

हमारे शरीर में लाल और सफेद दो तरह की रक्त कोशिकाएं होती है। जब लाल रक्त कोशिकाएं शरीर में कम हो जाती है। तब हमारे शरीर में खून की कमी यानी कि एनीमिया होता है। शरीर में खून की कमी (Anemia) तब होती है जब रक्त में पर्याप्त स्वस्थ लाल रक्त कोशिकाएं या हीमोग्लोबिन नहीं होता है।

हिमोग्लोबिन रक्त की कोशिकाओं के लिए ऑक्सीजन की पूर्ति करने के लिए आवश्यक है। जब शरीर को प्राप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिलता है तो हमारे शरीर में अनेक समस्याएं उत्पन्न होती है। यह पढ़ें ~  श्वेत रक्त कोशिकाएं कैसे बढ़ाएं 

शरीर में खून की कमी के कारण (Blood deficiency causes in hindi)

शरीर में खून की कमी का मुख्य कारण आयरन की कमी होना होता है इसके अलावा और भी बहुत से कारण है जैसे

  • नियमित आहार में पोषक तत्वों की कमी के कारण भी खून की कमी हो जाती है।
  • रक्तस्राव के कारण भी शरीर में खून की कमी हो सकती है।
  • अल्सर, बवासीर, आंतों में सूजन और कैंसर जैसी बीमारियों में भी खून की कमी हो सकती है।
  • महिलाओं में मासिक धर्म व प्रसव में अत्यधिक खून बहने के कारण भी खून की कमी हो जाती है।
  • लिवर और गुर्दे की बीमारी के कारण
  • किसी संक्रमण के कारण
  • हार्मोन की कमी के कारण

शरीर में खून की कमी के लक्षण (Blood deficiency symptoms in hindi)

शरीर में खून की कमी के बहुत से लक्षण होते है उनमे में से मुख्य के बारे में जानते है जैसे

  • थकान के साथ बदन दर्द होना
  • दिनभर कमजोरी महसूस होना
  • आंखों के सामने अंधेरा छाना चक्कर आना
  • सीने और सिर में दर्द का होना
  • आंखों और चेहरे का पीला होना
  • बालों का झड़ना में सफेद होना
  • पैरों के तलवों और हथेलियों का ठंडा होना

शरीर में खून की कमी दूर करने के घरेलू उपाय (Blood deficiency treatment food in hindi)

अंजीर

एनीमिया की समस्या होने पर अंजीर का सेवन जरूर करना चाहिए रात को सोते समय दो से तीन अंजीर और चार से पांच मुनक्का दूध के साथ उबालकर इसका नियमित सेवन करना खून की कमी की समस्या को दूर करने में बहुत सहायक होता है। यह पढ़ें ~ अंजीर के फायदे

बादाम

बादाम को रात को पानी में भिगोकर सुबह इसका पेस्ट बनाकर दूध के साथ सेवन करना चाहिए। इसका सेवन बच्चों, बड़ों, बुजुर्गों महिलाओं हर किसी को करना चाहिए। यह हमारे शरीर के लिए जरूरी पोषक तत्वों की पूर्ति करके हमारे शरीर को स्वस्थ बनाए रखता है। इससे खून की कमी भी दूर होती है।

पालक

पालक हमारे शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ाने में दवा की तरह काम करती है। पालक में विटामिन A, विटामिन C, विटामिन B9, आयरन और कैल्शियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इसलिए नियमित पालक का जूस, सब्जी व सूप के रूप में उपयोग करना चाहिए। यह एक बार में 20 पर्सेंट तक आयरन बढा सकता है। अतः खून की कमी की समस्या को दूर करने के लिए पालक का नियमित सेवन करना चाहिए।

खजूर

खजूर शरीर में खून की कमी को दूर करने के लिए एक उत्तम आहार है। इसके लिए रात को सोते समय दूध के साथ खजूर और किशमिश को उबालकर एक चम्मच गाय का घी मिलाकर नियमित सेवन करना लाभदायक होता है। यह हमारे शरीर में खून की मात्रा बढ़ाकर कमजोरी दूर करता है। यह पढ़ें ~ यौन शक्ति बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय

पपीता

स्वास्थ्य के लिहाज से यह एक बहुत ही गुणकारी फल है। खून की कमी को दूर करने के साथ-साथ यह कोलेस्ट्रोल भी कम करता है। इसमें फाइबर भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। यह पाचन तंत्र के लिए भी बहुत लाभदायक है। यह हमारे शरीर का वजन भी नियंत्रित रखता है। और रोग प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत करता है। इसको शेक व सलाद के रूप में इस्तेमाल करना अच्छा होता है।

सोयाबीन

सोयाबीन में विटामिन, आयरन व फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। खून की कमी को दूर करने के लिए सोयाबीन को भिगोकर या उबालकर सेवन करना लाभदायक होता है। इसके अलावा आप इसे सब्जी व शूप के रूप में भी प्रयोग कर सकते हैं। यह पढ़ें ~ सोयाबीन खाने के फायदे 

सेब

सेब में हमारे शरीर के लिए जरूरी पोषक तत्वों की पूर्ति करने की शक्ति होती है। इसमें आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इसलिए हर किसी को सुबह के समय में एक सेव को चबाकर जरूर खाना चाहिए।

मूंगफली और गुड़

मूंगफली को गरीबों का बादाम भी कहा जाता है। यह आयरन, कैल्शियम और जरूरी पोषक तत्वों से भरपूर होती है। इसलिए एनीमिया में मूंगफली और गुड़ का सेवन करना बहुत लाभदायक होता है। यह हीमोग्लोबिन का स्तर भी बढ़ाती है। इसलिए रात को सोते समय गुड़ के साथ मूंगफली का सेवन करना चाहिए।

चकुंदर

यह भी शरीर में खून बनाने का काम करता है। इसके लिए चुकंदर का रस निकालकर उसमें शहद मिलाकर सेवन करना शरीर में खून बनाता है। चकुंदर को सलाद के रूप में भी सेवन करना चाहिए। यह खून में लाल रक्त कोशिकाओं में बहुत व्रद्धि करता है। इसमें आयरन बहुत होता है। यह पढ़ें ~ चकुंदर के फायदे और नुकसान 

अँगूर

अंगूर में आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। शरीर में लौह तत्वों की कमी होने पर अंगूर का नियमित सेवन करना लाभदायक होता है। अगर ताजे अंगूर ना मिले तो किशमिश को दूध के साथ उबालकर इसका सेवन करना चाहिए यह ब्लड में हिमोग्लोबिन की कमी को दूर करता है।

आम

आम को फलों का राजा भी कहा जाता है। क्योंकि यह पोषक गुणों से भरपूर होता है। शरीर में खून की मात्रा बढ़ाने के लिए पके हुए आम का गूदा निकालकर मीठे दूध के साथ इसका शेक बनाकर सेवन करने से भी बॉडी में हीमोग्लोबिन बढ़ता है। और एनीमिया की समस्या से छुटकारा मिलता है।

टमाटर

खून की कमी की समस्या दूर करने के लिए घरेलू उपायों में टमाटर काफी उपयोगी होता है। इसके लिए एक गिलास टमाटर का जूस नियमित सेवन करें। इसके अलावा टमाटर का सूप भी पीना लाभदायक होता है। सलाद में तो इसका सेवन जरूर करना चाहिए।

तिल

तिल हमारे शरीर में खून बढ़ाने में बहुत सहायक है। इसलिए दो चम्मच तिल को पानी में भिगोकर रख दें 4 घंटे भीगोने के बाद इसका पानी पी ले व तिल का पेस्ट बनाकर इसमें एक चम्मच शहद मिलाकर इसका सेवन दिन में दो बार करना एनीमिया की समस्या से छुटकारा दिलाता है।

जीवनशैली

मूंग, मोठ, काले चने, गेहूं और सोयाबीन को अंकुरित करके इनमें प्याज व नीबू का रस व सेंधा नमक मिलाकर सुबह नाश्ते में नियमित सेवन करना खून की कमी दूर करके शरीर को ताकतवर बनाता है। सुबह खाली पेट इसको चबाकर खाने से यह हमारे शरीर के लिए जरूरी पोषक तत्वों की पूर्ति करता है। जिससे एनीमिया के उपचार में मदद मिलती है।

FAQ

Q 1. कौन सी चीज खाने से खून बढ़ता है?

Ans  शरीर में खून का स्तर बढ़ाने के लिए पालक बहुत ही अच्छा उपाय है। क्योंकि पालक में विटामिन ए, सी, बी9, आयरन, फाइबर और कैल्शियम प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। इसलिए सुबह नियमित पालक का जूस पीने से बहुत जल्दी शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ता है। इसके अलावा एक गिलास पानी में एक नींबू का रस और एक चम्मच शहद मिलाकर नियमित पीने से भी शरीर में खून बनता है।

Q 2. मनुष्य के शरीर में 1 दिन में कितना खून बनता है?

Ans  मनुष्य के शरीर में लगभग पांच लीटर ब्लड रहता है। लाल रक्त कणिका की आयु कुछ दिनों से लेकर 120 दिनों तक की होती है। उसके बाद इसकी कोशिकाएं तिल्ली में टूटती रहती है परंतु इसके साथ साथ बोन मेरो में इसका लगातार उत्पादन भी होता रहता है।

Q 3. शरीर में खून कितने प्रकार के होते हैं?

Ans  मनुष्य के शरीर में मुख्य रूप से 4 सत्संग होते हैं जो है ए, बी, एबी और ओ । रक्त समूह उन जीनों द्वारा निर्धारित होता है जिन्हें अपने माता-पिता से विरासत में पाते हैं। प्रत्येक समूह या तो RhD पॉजिटिव या RhD नेगेटिव हो सकता है इस हिसाब से कुल आठ मुख्य रक्त समूह होते है।

इस आर्टिकल में दी गई तमाम जानकारियों को सूचनात्मक उद्देश्य से लिखा गया है। अतः किसी भी सुझाव को आजमाने से पहले चिकित्सक से परामर्श अवश्य कर लेवे।

यह लेख  शरीर में खून की कमी I थकान I कमजोरी I Anemia Treatment I in hindi  पसंद आया तो Comment  करे और share करे।

इन्हें भी पढ़ें-

Leave a Comment