वजन घटाने के लिए डाइट प्लान | Home remedies for weight loss | in hindi

मोटापा कम कैसे करे (Home remedies for weight loss in hindi)

इस आर्टिकल में बात करते हैं वजन घटाने के लिए डाइट प्लान आज के समय में अनियमित जीवनशैली के कारण मोटापा सबसे बड़ी बीमारी है। आजकल मोटापा न सिर्फ बड़ों को बल्कि बच्चों को भी अपनी गिरफ्त में ले चुका है इसके कारण शरीर में अनेक बीमारियों का जन्म होता है। इसके लिये आयुर्वेद में ऐसी कई जड़ी-बूटियां है जो आपके पाचन तंत्र में सुधार करके वजन घटाने में आपकी मदद कर सकती है।आइए जानते हैं वजन घटाने के लिए डाइट प्लान | Home remedies for weight loss | in hindi

मोटापा क्या है (what is obesity in hindi)

जब व्यक्ति के शरीर का वजन सामान्य से ज्यादा होता है इसे ही मोटापा कहते हैं। आयुर्वेद के अनुसार हमारे शरीर में तीन प्रकार के दोष होते हैं वात, पित्त और कफ लेकिन कफ दोष वाले लोगों में वजन बढ़ने की अधिक संभावना होती है। क्योंकि इनका मेटाबॉलिज्म काफी धीमा, ऑयली, स्मूथ और मुलायम होता है।

आयुर्वेद की वैदिक परंपरा में पाचन तंत्र बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। weight loss या वजन कम करने में आयुर्वेद काफी हद तक मददगार साबित हो सकता है। आइए जानते हैं आयुर्वेद के इन उपायों के द्वारा वजन कैसे कम करें। यह पढ़ें ~  पाचन तंत्र मजबूत कैसे करें

मोटापा होने के कारण क्या है (what is obesity causes in hindi)

हम रोज जितनी कैलोरी भोजन के रूप में लेते है हमारा शरीर उतनी कैलोरी खर्च नहीं कर पाता इसलिए शरीर में अतिरिक्त कैलोरी फेट के रूप में जमा होने लगती है जिससे शरीर का वजन बढ़ने लगता है। वजन ज्यादा वाले व्यक्ति के शरीर में अधिक मात्रा में चर्बी (Toxins) जमा हो जाती है यह शरीर में धीरे-धीरे गलत दिनचर्या प्रदूषण और अपच के कारण जमा होती रहती है।

  • अनियमित खानपान और जीवनशैली के कारण
  • शारीरिक गतिशीलता में कमी के कारण
  • जंकफूड, फास्टफूड आदि का अधिक सेवन के कारण
  • अधिक चर्बी उक्त आहार के सेवन के कारण
  • किसी बीमारी की दवाओं के सेवन के कारण
  • पर्याप्त नींद नहीं लेने के कारण
  • अनुवांशिक कारणों से भी वजन बढ़ता है

वजन घटाने के आयुर्वेदिक उपाय (How to weight loss at home remedies in hindi)

आँवला का सेवन 

इसमें विटामिन-सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है यह एंटी ऑक्सीडेंट है यह भी शरीर से विषाक्त तत्वों को बाहर निकालने में मदद करता है।यह मेटाबॉलिज्म बढ़ाने और कैलोरी बर्न करने में सहायक है शरीर का इम्यून सिस्टम भी बढ़ाता है।

वजन कम करने के लिए बराबर मात्रा में आंवला और मिश्री का मिश्रण बना लें इस मिश्रण का एक चम्मच सुबह उठते ही गर्म जल के साथ सेवन करने से वजन घटाने में सहायता मिलती है  व मोटापे से छुटकारा मिलता है। यह पढ़ें ~  रोगप्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ाये 

त्रिफला का सेवन 

यह पेट की हर समस्या के लिए उपयोगी है एक चम्मच त्रिफला चूर्ण रात को चीनी मिट्टी के बर्तन में 200ml शुद्ध जल के साथ भिगोकर रख दें सुबह इसको उबाल लें जब 100ml जल बचे छानकर इसमें एक चम्मच शहद मिलाकर पिए यह शरीर में मौजूद विषाक्त तत्व को बाहर निकालकर शरीर का वजन नियंत्रित करता है।

निम्बू व शहद का सेवन 

मोटापा कम करने के लिए नियमित तौर पर गर्म पानी में शहद और नींबू का रस मिलाकर सेवन करना बहुत ही लाभदायक होता है इसके सेवन से वजन कम होने के साथ-साथ शरीर सुंदर व सुडौल बनता है। यह पढ़ें ~ मोटापा कैसे कम करें

कलौंजी का सेवन 

इसको काला जीरा के नाम से भी जाना जाता है वजन कम करने के लिए काला जीरा का प्रयोग 1 से 2 ग्राम नियमित करने से लाभ पहुंचता है इसमें anti-obesity के गुण होते हैं जो मोटापा घटाने में कारगर है इसके तेल का इस्तेमाल भी ज्यादा चर्बी वाली जगह पर मसाज के रूप में किया जाता है अतः इसका नियमित प्रयोग करना बहुत ही लाभदायक है।

अदरक व शहद का सेवन 

शहद और अदरक का रस बराबर मात्रा में मिलाकर खाना खाने के बाद प्रयोग करने से पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है और वजन नियंत्रित रहता है अतः नियमित रात का भोजन करने के बाद इसका सेवन करते रहें इससे वजन घटाने में सहायता मिलती है और मोटापा की समस्या में राहत मिलती है।

सेव का सिरका का सेवन 

सिरका (Apple cider vinegar) का सबसे ज्यादा प्रयोग वजन कम करने के लिए किया जाता है लोगों की अच्छी खासी तादाद इस समय मोटापे से परेशान है ऐसे में सेव का सिरका उनकी समस्या दूर करने में काफी हद तक लाभकारी है यह शरीर की अतिरिक्त कैलोरी को वर्ण करता है और खासतौर पर फैट को कम करने में मदद करता है।

इसलिए वजन नियंत्रित करने के लिए सेब के सिरके का प्रयोग करना चाहिए प्रयोग विधि = वजन कम करने के लिए एक गिलास गुनगुने पानी में एक से दो चम्मच सेब का सिरका मिलाकर सुबह खाली पेट इसका सेवन करने से बहुत लाभ होता है।

शरीर का वजन नियंत्रित रखने के घरेलू उपाय (Weight loss treatment at home in hindi)

मोटापा घटाने या शरीर का वजन नियंत्रित रखने के लिए खाने पीने की कुछ आदतें और दिनचर्या में कुछ बदलाव करना जरूरी होता है उनमें से ही कुछ के बारे में जानते हैं जैसे

  • सुबह उठकर खाली पेट एक से दो गिलास गुनगुने पानी का नियमित सेवन करना वजन घटाने में लाभदायक होता है।
  • खाना खाने से आधा घंटा पहले एक या दो गिलास पानी पिए उसके बाद सलाद या फ्रूट्स का सेवन करने से भी लाभ मिलता है।
  • अधिक चीनी या शुगर युक्त मीठी चीजों का सेवन करने से भी वजन तेजी से बढ़ता है इसलिए इन चीजों का सेवन करने से बचना चाहिए।
  • फास्ट फूड जंक फूड ज्यादा वाली चीजें बर्गर पिज़्ज़ा पनीर आदि चीजें खाने से भी बचना चाहिए।
  • खाना खाने के बाद 500 मीटर तेज कदमों से वॉक करना भी वजन घटाने में सहायक होता है।
  • नियमित योग, व्यायाम, प्राणायाम व एक्सरसाइज करना भी वजन घटाने में सहायक होता है।
  • मोटापे की समस्या से ग्रसित लोगों को ग्रीन टी का नियमित सेवन करना भी लाभदायक होता है।
  • शरीर का बढ़ा हुआ वजन कम करने के लिए नियमित डाइट में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम करें।

जीवन शैली में बदलाव (weight loss tips in hindi) 

भोजन समय पर करें वह भोजन शुरू करने से पहले सलाद व फल खाये भोजन के दौरान जल का प्रयोग ना करें रात का भोजन सोने से 2 घंटे पहले करें जो हल्का आराम से पचने वाला होना चाहिए भोजन में हरी सब्जियां, फल, दही, छाछ, छिलके वाली दाल आदि का प्रयोग करें।

ऐसी चीजों का प्रयोग ज्यादा करें जिनमें फाइबर प्रचुर मात्रा में हो एक साथ भरपेट भोजन करने के बजाय थोड़ा थोड़ा भोजन करते रहे खाना कभी भी बंद ना करें नियमित तौर पर सुबह व शाम को भोजन के बाद 2 से 3 किलोमीटर तेज कदमों से पैदल जरूर चले यह उपाय वजन घटाने के लिए सबसे कारगर सिद्ध हुआ है।

FAQ

Q 1. पतले होने के लिए क्या खाना चाहिए?

Ans  उच्च फाइबर और प्रोटीन युक्त भोजन करने से लंबे समय तक पेट भरा हुआ रहता है इससे वजन घटाने में काफी मदद मिलती है। इसके लिए नाश्ते में दूध, ड्राई फ्रूट्स, ब्राउन ब्रेड, शेक, स्मूदीज, अंकुरित अनाज, दलिया आदि को शामिल कर सकते हैं। इससे शरीर का मेटाबॉलिज्म बेहतर होता है और कैलोरीज बर्न करने में भी मदद मिलती है।

Q 2. वजन कम करने के लिए क्या नहीं खाना चाहिए?

Ans  इसके लिए बाहर का खाना खाने से बचना चाहिए क्योंकि बाहर के खाने में तेज मसाले और तेल की मात्रा अधिक होती है और जूस वगैरह अगर बाहर सेवन करते हैं तो उस में शुगर की मात्रा अधिक होती है यह वजन घटाने में बाधा बनते है।

Q 3. पेट और कमर पतली कैसे करें?

Ans  कमर व पेट का मोटापा कम करने के लिए अपने खान-पान और जीवनशैली में बदलाव लाना बहुत जरूरी होता है। इसके साथ ही योग, व्यायाम व शारीरिक एक्टिविटी को भी अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाने से लाभ होता है। खाने में कार्बोहाइड्रेट का परहेज करें व हरा जूस और हरी सब्जियों का अधिक सेवन करें सेचुरेटेड फैट वाले उत्पाद ना खाएं।

व्यायाम और योगासन को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाएं आयुर्वेद में मोटापे से लड़ने के लिए प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति भी बहुत कारगर है संतुलित और स्वास्थ्यवर्धक आहार तथा व्यायाम के साथ-साथ आयुर्वेदिक चिकित्सा को करने से मोटापा घटाने में सर्वाधिक लाभदायक होता है।

इस आर्टिकल में दी गई स्वास्थ्य से जुड़ी तमाम जानकारियों को सूचनात्मक उद्देश्य से लिखा गया है किसी भी सुझाव को आजमाने से पहले चिकित्सक से परामर्श जरूर करें।

यह लेख वजन घटाने के लिए डाइट प्लान | Home remedies for weight loss | in hindi कैसा लगा comment करके जरूर बताएं और share करें।

इन्हें भी पढ़ें-

Leave a Comment