रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय | immunity kaise badhaye | in hindi

रोग प्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ाएं (immunity kaise badhaye)

immunity kaise badhaye – आजकल अनुचित खानपान और व्यस्त जीवनशैली के कारण अक्सर लोगों में छोटी बड़ी बीमारियों से ग्रस्त होने या रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने जैसी समस्याएं होती रहती है। लेकिन आज भी हम प्राकृतिक व प्राचीन चिकित्सा प्रणाली के माध्यम से अपने शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता (immunity booster in hindi) बढ़ा सकते हैं। इस आर्टिकल में जानेगे इम्युनिटी बढ़ाने के घरेलू नुस्खे immunity kaise badhaye और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए क्या खाएं । आइये जानते है रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय | immunity kaise badhaye | in hindi

ऐसे कई फूड है जिन्हें रात भर भिगोकर अगले दिन सुबह खाना अपेक्षाकर्त इम्यूनिटी बढ़ाने (immunity booster) के लिए अधिक फायदेमंद होता है क्योंकि अंकुरित होने के बाद इनकी न्यूट्रीशियन वैल्यू बढ़ जाती है साथ ही यह आसानी से पच भी जाते हैं । जो अच्छी सेहत के साथ-साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में भी कारगर उपाय है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के कुछ घरेलू उपाय (immunity kaise badhaye in hindi) में हम आपको ऐसे ही (immunity booster food) फूड के बारे में बता रहे हैं जिन्हें रात भर भिगोकर खाना शरीर की रोगो से लड़ने की क्षमता को मजबूत करने में सहायक होंगे। इसलिए immunity kaise badhaye के इस महत्वपूर्ण लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

रोग प्रतिरक्षक क्षमता कमजोर होने के लक्षण (Low immunity symptoms in hindi)

इम्यून सिस्टम immunity kaise badhaye जानने से पहले इसके कमजोर होने के लक्षण व कारण पता होना जरुरी है  जैसे से हमें स्वस्थ रहने के लिए पौष्टिक आहार को अपनी डाइट में शामिल करना आवश्यक होता है। ऐसे ही निरोगी रहने के लिए शरीर का इम्यून सिस्टम का मजबूत होना आवश्यक होता है।

जिस प्रकार से हमारे शरीर में किसी बीमारी के लक्षण होते हैं वैसे ही रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने के भी कुछ लक्षण दिखाई देते हैं जैसे

  • बहुत जल्दी किसी बीमारी की चपेट में आना
  • हमेशा तनावग्रस्त महसूस होना
  • सर्दी के मौसम में अधिक सर्दी लगना
  • अत्यधिक कमजोरी महसूस होना
  • शरीर के अलग-अलग हिस्सों में दर्द महसूस होना
  • पेट संबंधी समस्याएं होना
  • शरीर में सुस्ती रहना

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए क्या खाना चाहिए (immunity kaise badhaye in hindi)

मेथीदाना का सेवन 

इसमे फाइवर भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो कब्ज को दूर कर आंतो  को साफ रखने में मदद करता है। डायबिटीज के रोगियों के लिए भी मेथीदाना फायदेमंद होता हैं ।

साथ ही इनका इस्तेमाल महिलाओं में पीरियडस के दौरान होने वाले दर्द को भी कम करता है।और साथ ही रोगप्रतिरोधक क्षमता भी बनाये रखता हैं। यह पढ़ें~ मधुमेह के लिए आहार चार्ट 

खस खस (पोस्त दाना) का सेवन 

यह फोलेट,थियामिन और पेटोथेनिक एसिड का अच्छा सोर्स होता है। इसमें मौजूद विटामिन बी मेटाबोलिज्म को बढ़ाता है

जिससे वजन को नियंत्रित करने में मदद मिलती है।

काले चने का सेवन

चने में फाइबर और प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो कब्ज दूर करने के साथ साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में भी बहुत सहायक होता है।

किशमिश का सेवन

किशमिश में आयरन और एंटीआक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होता है। भीगी हुई किसमिस नियमित रूप से खाने से स्किन हेल्दी और चमकदार बनती है। साथ ही आयरन की कमी को दूर करके इम्यून सिस्टम बढ़ाने के लिए सहायक होती है। यह पढ़ें~ इम्युनिटी बढ़ाने के उपाय 

खड़े मूंग का सेवन 

इसमे प्रोटीन, फाइबर और विटामिन भरपूर मात्रा में पाया जाता है भीगे हुए मूंग का नियमिय रूप से सेवन कब्ज दूर करने में बहुत फायदेमंद होता है।

इसमें पोटेशियम और मैग्नेशियम भी भरपूर मात्रा में होने की वजह से डॉक्टर्स हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को इसे नियमित रूप से भिगोकर खाने की सलाह देते हैं साथ ही इससे बीमारियों से लड़ने की क्षमता (immunity booster) अच्छी होती है।

अलसी का सेवन 

अलसी या फ्लेक्स सीड्स ओमेगा3 फेंटी एसिड का एक मात्र शाकाहारी सोर्स माना जाता है। अलसी का सेवन बेड कोलेस्ट्रॉल को घटा कर हमारे दिल को हेल्दी रखने में सहायक होता है। और हमारी आंतो को भी साफ़ रखने के साथ साथ रोगप्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत करने में भी सहायक है। यह पढ़ें~ हाई कोलेस्ट्रॉल के लक्षण कारण और उपाय

मुलेठी का सेवन 

मुलेठी एक औषधिय गुणों का खजाना है । मुलेठी का इस्तेमाल कई तरह के रोगों में दवाई के तौर पर किया जाता है। इसमे एंटीवायरल ,एंटीमाइक्रोबियल, एंटीइंफ्लेमेटरी मौजूद होते हैं मुलेठी का उपयोग कई वायरल इंफेक्सन से लड़ने में किया जाता है। आप मुलेठी की चाय भी पी सकते हैं।

दालचीनी का सेवन 

दालचीनी एंटीआक्सीडेंट गुणों से भरपूर होती हैं। आयुर्वेद के जानकार मानते हैं कि दालचीनी फ्लू को ठीक करने या उससे राहत दिलाने में बेहद उपयोगी है। गले के संक्रमण से छुटकारा पाने के लिए पिसी हुई दालचीनी में नींबू का रस मिलाकर सेवन कर सकते हैं।

अगर खाँसी से पीड़ित हैं तो आप गुनगुने शहद और दालचीनी के एक चौथाई चम्मच चूर्ण का मिश्रण तैयार करे और नास्ते के बाद और सोने से पहले रोजाना सेवन करें।

विटामिन सी का सेवन 

विटामिन सी युक्त चीजे रोग प्रतिरक्षक क्षमता बढ़ाने के लिए रामबाण मानी जाती है। विटामिन सी के लिए आप संतरे ,अमरूद ,आंवला,बेरीज,नींबू आदि का इस्तेमाल करे। आंवला में सबसे ज्यादा विटामिन सी होता है।

इसके अलावा आप अपनी डाईट में मौरिंगा, तुलसी, गिलोय, नीम, ग्रीनटी आदि चीजो का इस्तेमाल कर सकते हैं। इन सबसे ही रोग प्रतिरोधन क्षमता बढ़ती है।

FAQ : Immunity kaise badhaye के बारे में सवाल

Q 1. रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए क्या खाएं ?

Ans हमारे शरीर का इम्यून सिस्टम जितना मजबूत होगा उतना ही हम जल्द बीमारी की चपेट में आने से बच सकते हैं। इसलिए कुछ ऐसे आहार है जिनको अपनी डाइट में शामिल करने से प्रतिरक्षा प्रणाली बढ़ाने में मदद मिलती है जैसे नींबू, आंवला, ग्रीन टी, ओट्स का सेवन, कच्ची हल्दी, प्याज, हरी पतेदार सब्जियां, लहसून, दालचीनी आदि।

Q  2. सबसे ज्यादा ताकत क्या खाने से आती है?

Ans  शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता और ताकत बढ़ाने के लिए दालों को अपनी नियमित डाइट में शामिल करना चाहिए क्योंकि दालों में प्रोटीन सबसे ज्यादा पाया जाता है। इसके अलावा सब्जियों, फलों और दालों के सूप का भी सेवन करने से भी इम्युनिटी बढ़ाने के साथ साथ शरीर की ताकत बढ़ाने में भी सहायता मिलती है।

निष्कर्ष (Conclusion)

इस आर्टिकल में हमने जाना इम्यून सिस्टम कमजोर होने के लक्षण, कारण तथा रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने या इम्युनिटी बढ़ाने के घरेलू उपाय व नुस्खे (immunity kaise badhaye) और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए क्या खाएं। इस लेख के बारे में आपके कोई भी सुझाव या सवाल हो तो आप हमें कमेंट में पूछ सकते है

इस आर्टिकल रोग प्रतिरोधक क्षमता immunity kaise badhaye में दी गई स्वास्थ्य से जुड़ी तमाम जानकारियों को सूचनात्मक उद्देश्य से लिखा गया है किसी भी सुझाव को आजमाने से पहले चिकित्सक से परामर्श जरूर कर लेवें।

हमारी पोस्ट रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय (immunity kaise badhaye in hindi) आप को कैसी लगी Comment करके बताएं और पोस्ट को सोशल मीडिया पर Share भी करें।

इन्हें भी पढ़ें~

Thanks…

Leave a Comment