मोटापा कैसे कम करें | मोटापा घटाने के घरेलू उपाय | Vajan kaise ghataye |in hindi

वजन कम करने के घरेलू उपचार (Weight loss tips in hindi) पेट कम करने के लिए क्या करना चाहिए

आयुर्वेद के अनुसार कफ दोष वाले लोगों में मोटापा अधिक होता है। मोटापा आज के समय में न सिर्फ बड़ों में बल्कि बच्चों में भी बढ़ता जा रहा है। इसके कारण बहुत सी बीमारियां उत्पन्न होती है। आज के समय में हर कोई मोटापा कम कैसे करें (Weight loss tips in hindi) के बारे में ही सोचता है। वजन बढ़ने के कारण व्यक्ति को तनाव के साथ आत्मविश्वास और मानसिक स्थिरता जैसी समस्याएं उत्पन्न होती है। निरोगी हेल्थ के इस आर्टिकल में जानेगे मोटापे के कारण क्या है और मोटापा कम करने के लिए क्या खाना चाहिए आइए जानते हैं मोटापा कैसे कम करें | मोटापा घटाने के घरेलू उपाय | Vajan kaise ghataye |in hindi

मोटापे के कारण क्या है (Causes of obesity in hindi)

आप रोज जितनी कैलोरी भोजन के रूप में लेते हैं। जब आपका शरीर रोजाना उतनी कैलोरी खर्च नहीं कर पाता है। तो शरीर में अतिरिक्त कैलोरी फेट के रूप में जमा होने लगती है। जिसके कारण शरीर का वजन बढ़ने लगता है। जब इंसान के शरीर का वजन सामान्य से अधिक बढ़ जाता है। तो उसी को मोटापा करते हैं। और व्यक्ति मोटापा घटाने (Weight gain) के घरेलू उपाय के बारे में सोचता है।

आज के समय में अनियंत्रित जीवन शैली व जंक फूड का ज्यादा सेवन और शारीरिक गतिशीलता में कमी आदि के कारण उत्पन्न बीमारियों में से सबसे बड़ी बीमारी मोटापा है। यह बीमारी पूरी दुनिया में एक महामारी के रूप में उभरी है। मोटापा के कारण शरीर में बहुत तरह की परेशानियां होने लगती है। ज्यादा मोटापा होने पर लोग मोटापा कम करने के लिए (motapa ghatane ke upay) उपाय खोजते हैं। उचित जानकारी नहीं होने के कारण लोग अपना वजन नहीं घटा पाते हैं। आयुर्वेद के इन घरेलू उपायों को आजमा कर आप अपना वजन नियंत्रित कर सकते हैं।

मोटापा कम करने के लिए क्या खाना चाहिए (Obesity treatment at home in hindi)

आंवला चूर्ण

इसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है। यह एक उत्तम एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है। यह शरीर के विषाक्त तत्वों को बाहर निकालने में हमारी काफी मदद करता है। तथा मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने में और कैलोरी बर्न करने में भी काफी मददगार होता है। इसलिए आंवले का नियमित सेवन हर किसी को करना चाहिए। वजन कम व नियंत्रित करने के लिए आंवला चूर्ण बराबर मात्रा में मिश्री मिलाकर रात को दो चम्मच की मात्रा में चीनी मिट्टी के किसी पात्र में पानी में भिगोकर रख दें। सुबह उठकर गुनगुने जल के साथ इसका नियमित सेवन करने से मोटापा की समस्या से छुटकारा मिलता है। व रोग प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत होती है। यह पढ़ें ~ आंवला का सेवन कैसे करें 

त्रिफला चूर्ण

औषधीय गुणों से भरपूर होने के कारण त्रिफला वजन घटाने में काफी मदद करता है। और शरीर को अन्य बीमारियों से भी बचा के रखता है। वजन कम करने के लिए त्रिफला चूर्ण की एक चम्मच की मात्रा गुनगुने जल के साथ भोजन करने के आधा घंटा बाद नियमित सुबह शाम दोनों समय प्रयोग करें। इसमें बहुत से फाइटो रसायन होते हैं जो एंटी ऑक्सीडेंट गुणों और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सहायक होते हैं। यह बढ़ती उम्र के प्रभाव को कम करने के साथ-साथ त्वचा व बालों को भी स्वस्थ रखता है। इसलिए अपने आहार में त्रिफला का सेवन नियमित रूप से करना पेट संबंधी किसी भी समस्या के समाधान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

सेव का सिरका

इसमें मौजूद फाइबर हमारे पेट को लंबे समय तक भरा हुआ होने का एहसास दिलाता है। यह लिवर में जमे फैट को घटाने में भी मददगार होता है। जिससे हमारे पेट की चर्बी कम होती है। जिसके कारण मोटापा कम होने लगता है। एक गिलास गुनगुने पानी में एक से दो चम्मच सेब का सिरका और एक नींबू का रस मिलाकर (स्वादानुसार सेंधा नमक भी मिला सकते हैं) नियमित सेवन करना चाहिए यह वजन को नियंत्रित रखने में काफी मददगार होता है। और हमारे शरीर से विषाक्त तत्वों को भी बाहर निकालने में काफी मददगार होता है।

शहद और नींबू

नींबू में मौजूद एस्कोरबिक एसिड हमारे शरीर में मौजूद विषाक्त तत्वों को बाहर निकालने में बहुत मदद करता है। और शहद हमारे शरीर के मेटाबॉलिज्म सिस्टम को दुरुस्त रखता है। इसके अलावा काली मिर्च में पाइपरीन नामक तत्व पाया जाता है। जो नई वसा कोशिकाओं को शरीर में जमने नहीं देता। एक गिलास गुनगुने पानी में एक नींबू का रस मिलाकर उसमें एक चम्मच शहद व एक चुटकी काली मिर्च व थोड़ा-सा सेंधा नमक मिलाकर नियमित खाना खाने के बाद दोनों समय सेवन करने से वजन नियंत्रित रहता है। और मोटापा की समस्या से छुटकारा मिलता है। यह पढ़ें ~ मेटाबोलिज्म क्या है और इसे कैसे बढ़ाएं

अदरक दालचीनी शहद

अदरक भूख ज्यादा लगने की समस्या दूर करता है। यह पाचन तंत्र को भी दुरुस्त रखता है। दालचीनी में एंटीबैक्टीरियल गुण भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। जो हमारे शरीर को नुकसान दायक बैक्टीरिया से छुटकारा दिलाने में सहायता करती है। जिससे वजन कम होता है व शरीर स्वस्थ रहता है। शहद हमारे शरीर में अतिरिक्त वसा को जलाने का काम करता है। इसलिए एक चम्मच अदरक का रस, एक चम्मच शहद व दो से तीन ग्राम दालचीनी पाउडर तीनों को मिलाकर सुबह खाली पेट व रात को सोते समय सेवन करें। इसका सेवन करके गुनगुना पानी पिए। इसके नियमित सेवन करने से वजन नियंत्रित रहता है व मोटापा की समस्या से छुटकारा मिलता है।

मेथी दाना

मेथी दाना में प्रचुर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं। जो मेटाबॉलिज्म को बेहतर करते हैं। और अतिरिक्त वसा फेट को बर्न करने में भी काफी मददगार होती है। इसके पानी का इस्तेमाल वजन घटाने के लिए किया जाता है। इसके अलावा इसके पत्तों में डायट्री फाइबर भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। जो पाचन तंत्र को मजबूत करता है। जिससे वजन नियंत्रित रहता है। वजन घटाने के लिए रात को दो चम्मच मेथी को पानी में भिगोकर रख दें सुबह उठकर पानी पिए व मेथी को चबाकर खाएं। इससे मोटापा घटाने में काफी लाभ होता है। इसकी पत्तियों को भी सब्जी के रूप में या सब्जियों में इस्तेमाल करना लाभदायक होता है। जिससे हमारा वजन नियंत्रित रहता है। व मोटापे की समस्या नहीं होती।

मोटापा कम करने के लिए क्या करना चाहिए (Obesity treatment in hindi)

  • मोटापे की समस्या से मुक्ति पाने के लिए चीनी, नमक वगैरह का सेवन कम करना चाहिए।
  • कफ़ को बढ़ाने वाले आहार जिनमें कार्बोहाइड्रेट प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। वह भोजन नहीं करना चाहिए। इसके अलावा चावल, आलू , शकरकंदी, मिठाईयां, मीठे पेय पदार्थ, कोल्ड ड्रिंक्स, तले हुए खाद्य पदार्थ, फास्ट फूड, जंक फूड, चॉकलेट, चीज, बटर, पनीर, मछली, अंडा मीट आदि यह सभी कफ़ बढ़ाने वाले आहार होते हैं। इनका सेवन कभी भी नहीं करना चाहिए।
  • खाना कभी भी कम या बंद ना करें। दिन में सुबह नाश्ता, दोपहर में भोजन व रात में हल्का भोजन जरूर करते रहे। जिससे कि शरीर की एनर्जी बनी रहे।
  • नियमित सुबह के समय 2 से 3 किलोमीटर तेज कदमों से पैदल चलने को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बना ले। पैदल चलकर आने के बाद गर्म जल में शहद व नींबू का सेवन नियमित करें। रात को सोने से 2 घंटा पहले हल्का भोजन कर लेना चाहिए भोजन के बाद 500 मीटर पैदल जरूर चले।

FAQ

Q  1. मोटापा कम करने के लिए क्या करें?

Ans  शरीर में मोटापा कम करने के लिए जीवन शैली  और खाने की आदतों में कुछ बदलाव करना चाहिए जैसे सुबह उठकर गर्म पानी पीएं और योग व्यायाम व मोर्निंग वॉक करें। सोने से दो घंटे पहले भोजन कर लेना चाहिए, रात का खाना हल्का व आराम से पचने वाला होना चाहिए। संतुलित और कम वसा वाले आहार का सेवन करने से मोटापा घटाने में मदद मिलती है।

Q 2. पेट की चर्बी कम करने के लिए क्या खाएं?

Ans शरीर में कहीं भी फालतू चर्बी हो या पेट की चर्बी कम करनी हो तो आहार में कम कार्बोहाइड्रेट लें। सफेद चावल, बिस्किट और गेहूं के आटे की रोटी जैसे साधारण कार्बोहाइड्रेट में ज्यादा शक्कर होती है जो कि नुकसानदायक है। कम कार्बोहाइड्रेट में बाजरे की रोटी ओट्स या ब्राउन राइस का सेवन करना फायदेमंद होता है। इसके अलावा फाइबर और प्रोटीन से भरपूर आहार का सेवन करना चाहिए।

Q  3. पेट जल्दी कैसे कम करें?

Ans  इसके लिए शुगर का सेवन करना बंद करें क्योंकि शुगर में फ्रक्टोज होता है जो पेट के चारों तरफ फैट को बढ़ाता है। अपनी नियमित डाइट में प्रोटीन की मात्रा बढ़ाएं तथा डाइट में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा को कम करें। इसके साथ गुनगुने पानी का सेवन करना भी मददगार होता है।

इस आर्टिकल में दी गई तमाम जानकारियों को सूचनात्मक उद्देश्य से लिखा गया है अतः किसी भी उपाय को आजमाने से पहले चिकित्सक से परामर्श अवश्य कर लेवे।

यह लेख मोटापा कैसे कम करें | मोटापा घटाने के घरेलू उपाय | Vajan kaise ghataye |in hindi कैसा लगा Comment  करके जरूर बताये व पोस्ट Share  जरूर करे कोई भी सुझाव हो तो हमें Comment करके बताये।

इन्हें भी पढ़ें-

Leave a Comment