प्लेटलेट्स बढ़ाने के उपाय | Platelets kaise badhaye | in hindi

प्लेटलेट्स काउंट बढ़ाने के घरेलू उपचार (Home remedies to increase platelet count in hindi)

एक स्वस्थ व्यक्ति के शरीर में सामान्य रूप से ब्लड में 1,50,000 से लेकर 4,50,000 प्लेटलेट्स प्रति माइक्रोलीटर होते हैं। डेंगू और चिकनगुनिया जैसी बीमारियों में प्लेटलेट्स की संख्या बहुत तेजी से घटती है। ऐसे में इनको कम होने से नियंत्रित न किया जाए तो व्यक्ति की स्थिति गंभीर हो सकती है। निरोगी हेल्थ के इस आर्टिकल में जानेगे प्लेटलेट्स क्या है और प्लेटलेट्स कैसे बढ़ाएं आइये जानते है प्लेटलेट्स बढ़ाने के उपाय | Platelets kaise badhaye | in hindi

प्लेटलेट्स क्या है (What is platelet in hindi)

हमारे शरीर के ब्लड  में तीन प्रकार की कोशिकाएं होती है। लाल रक्त कोशिकाएं, सफेद रक्त कोशिकाएं और प्लेटलेट्स। प्लेटलेट्स को Thrombocytes भी कहा जाता है। जो रक्त कोशिकाओं के छोटे-छोटे टुकड़े होते हैं। यह Bone marrow यानी हड्डियों में मौजूद स्पंज जैसे टिस्यू में बनते हैं। प्लेटलेट्स ब्लड क्लोटिंग (खून के थक्के) बनाने में प्रमुख भूमिका निभाते हैं। खासतौर पर जब रक्त वाहिकाओं में से कोई एक क्षतिग्रस्त होती है। तो शरीर से खून बहने लगता है। इस दौरान आपके प्लेटलेट्स रक्त वाहिका के छिद्र को बंद करने और रक्तस्राव को रोकने में मदद करते हैं। प्लेटलेट्स का 1,50,000 से नीचे आना चिंता का विषय होता है।

प्लेटलेट्स बढ़ाने के उपाय (How to increase platelet at home in hindi)

गिलोय का सेवन

गिलोय का जूस प्लेटलेट्स (Platelets) को बढ़ाने का सबसे बढ़िया उपाय है। इसके सेवन से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बहुत मजबूत होती है। गिलोय के जूस में नींबू रस व तुलसी रस को मिलाकर सेवन करना चाहिए। इसके अलावा गिलोय की 2 से 3 इंच की डंडी को रात भर पानी में भिगोकर पीने या पानी में उबालकर पीने से प्लेटलेट्स काउंट में वर्द्धि होती है।  रोग प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत होती है। इसके अलावा आप गिलोय के सत को एक चम्मच शहद के साथ दो चुटकी मिलाकर दिन में दो से तीन बार प्रयोग करें। इसके नियमित प्रयोग से प्लेटलेट्स काउंट बढ़ता है।

चकुंदर का सेवन

यह प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट और हेमोस्टेटिक गुणों से भरपूर होता है। आमतौर पर चुकंदर का सेवन लोग सलाद के रूप में ज्यादा करते हैं। लेकिन यह प्लेटलेट्स की संख्या बढ़ाने वाले एक प्रमुख आहार के रूप में जाना जाता है। यदि रोजाना एक से दो चुकंदर और गाजर पालक का जूस बनाकर नियमित इस्तेमाल करते हैं। तो यह ब्लड प्लेटलेट काउंट बढ़ाने के लिए एक बहुत ही कारगर घरेलू उपाय है। यह पढ़ें ~ चुकंदर के फायदे 

पपीता का सेवन

अगर आपके प्लेटलेट्स काउंट कम है। तो इनको बढ़ाने के लिए पपीता और पपीते के पत्ते आपकी सहायता कर सकते हैं। डेंगू बुखार में प्लेटलेट्स की संख्या कम होने पर पपीता या पपीते के पत्ते के रस का सेवन बहुत लाभदायक होता है। इसके साथ ही आप पपीते की पत्तियों को चाय में उबालकर भी पी सकते हैं इसके नियमित सेवन से ब्लड प्लेटलेट काउंट में बहुत तेजी से वर्द्धि होती है।

पालक का सेवन

प्लेटलेट्स काउंट बढ़ाने के लिए पालक भी बहुत उपयोगी होती है। इसके लिए आप नियमित पालक का जूस पिए। इसके ज्यूस को आप टमाटर, चुकंदर, गाजर, नींबू रस, गन्ने के रस  के साथ मिलाकर भी सेवन कर सकते हैं। साथ ही पालक का सूप, सलाद, स्मूदी सब्जी के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें आयरन भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इसलिए यह हिमोग्लोबिन (HB) और प्लेटलेट काउंट बढ़ाने में बहुत मददगार है।

नारियल पानी का सेवन

नारियल पानी पानी में इलेक्ट्रोलाइट्स प्रचुर मात्रा में होते हैं। इसके साथ ही यह मिनरल्स का भी सबसे अच्छा स्रोत होता है। जो शरीर में ब्लड प्लेटलेट्स काउंट को बढ़ाने में काफी मददगार होता है। इसलिए प्लेटलेट्स की कमी होने पर नियमित ताजे नारियल पानी का इस्तेमाल करना चाहिए।

गेहू ज्वारा का सेवन

व्हीटग्रास का इस्तेमाल भी प्लेटलेट्स काउंट को बढ़ाने के लिए किया जाता है। यह बहुत जल्दी  प्लेटलेट्स काउंट को रिकवर करता है। इसमें क्लोरोफिल, फोलिक एसिड, जिंक और विटामिन जैसे तमाम पोषक तत्व पाए जाते हैं। जो शरीर की हर जरूरत को पूरा करते हुए ब्लड प्लेटलेट काउंट को बढ़ाने में मदद करते हैं। अगर आपका इम्यून सिस्टम ही प्लेटलेट्स को कम कर रहा है। तो इसे नियंत्रित करने में व्हीटग्रास आपकी मदद कर सकता है। इसके लिए ताजा गेंहू ज्वारा लेकर धोकर उसको कूटकर पेस्ट जैसा बनाकर उसका रस निकाल लें। इस रस में स्वाद के लिए नींबू का रस व सेंधा नमक भी मिला सकते हैं। आधा आधा कप दिन में तीन बार सेवन करते रहें जब तक कि प्लेटलेट काउंट कंप्लीट ना हो जाए।

किशमिश का सेवन

किसमिस आयरन से भरपूर होती है। यह (आरबीसी) RBC और प्लेटलेट्स के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इनकी कमी के कारण Thrombocytopenia या कम प्लेटलेट्स और एनीमिया जैसी समस्याएं हो सकती है। इन सब से बचने के लिए अपने आहार में किसमिस का नियमित प्रयोग करें। प्लेटलेट काउंट बढ़ाने के लिए चार से पांच किशमिश को रात भर पानी में भिगो दें सुबह उठते ही इस पानी को पी लें व किसमिस को चबाकर खाएं। नियमित इसका इस्तेमाल करने से एनीमिया, प्लेटलेट बढ़ाने में सहायक होती है। यह पढ़ें ~ एनीमिया क्या है 

FAQ

Q 1. प्लेटलेट्स काउंट कैसे बढ़ाएं?

Ans  ब्लड में प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए कीवी गेहूं का जवारा गाजर का जूस नारियल पानी जैसी चीजों का सेवन करें इनमें मौजूद इलेक्ट्रोलाइट्स और मिनरल्स प्लेटलेट्स बढ़ाने में मददगार होते हैं। इसके अलावा चुकंदर खून में प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए एंटीऑक्सीडेंट और हेमोस्टेटिक गुणों से भरपूर होता है।

Q 2. प्लेटलेट्स कम होता है तो क्या होता है?

Ans पीछे से क्यों फोटो के अनुसार प्लेटलेट्स कम होने का मतलब डेंगू ही नहीं होता प्लेटलेट्स डेंगू के साथ-साथ वायरल बुखार मलेरिया चिकनगुनिया किडनी या लिवर फैलियर आदि में भी कम हो सकती है।

Q 3. प्लेटलेट्स ज्यादा होने से क्या होता है?

Ans  हमारे शरीर में जरूरत से ज्यादा प्लेटलेट्स होना शरीर के लिए अनेक गंभीर खतरे उत्पन्न कर सकता है। इस में खून का थक्का जमना शुरू हो जाता है जिससे दिल के दौरे, लकवा, किडनी फेल आदि रोगों का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए खून में प्लेटलेट्स का कम या ज्यादा होना नुकसानदायक होता है।

इस आर्टिकल में लिखी गई तमाम जानकारियों को सूचनात्मक उद्देश्य से लिखा गया है अतः किसी भी प्रयोग को आजमाने से पहले चिकित्सक से परामर्श अवश्य कर लेवे।

यह लेख  प्लेटलेट्स बढ़ाने के उपाय | Platelets kaise badhaye | in hindi  आपको कैसा लगा comment करके बताये और share जरूर करें।

इन्हें भी पढ़ें-

Leave a Comment