पिम्पल्स हटाने के घरेलू उपाय | Pimples treatment at home | in hindi

चेहरे के दाग-धब्बे हटाने के लिए घरेलू उपाय (How to Remove dark spots at home in hindi)

आजकल अनितंत्रित खानपान और जीवनशैली में बदलाव के कारण पिम्पल्स की समस्या आम हो गई है अगर समय पर पिम्पल्स का उपचार न किया जाये तो इसके कारण असहनीय दर्द और चेहरे पर दाग जैसी समस्याओ का सामना करना पड़ता है निरोगी हेल्थ के इस आर्टिकल में पिम्पल्स के कारण, पिम्पल्स हटाने के घरेलू इलाज के बारे में विस्तार पूर्वक जानते है आइये जानते है पिम्पल्स हटाने के घरेलू उपाय | Pimples treatment at home | in hindi

आजकल पिम्पल्स निकलना एक आम समस्या हो गई है। यह न सिर्फ चेहरे की खूबसूरती कम करता है बल्कि इसके कारण असहनीय दर्द का भी सामना करना पड़ता है। जिनकी त्वचा तैलीय होती है। उनको पिम्पल्स की समस्या ज्यादा होती है। चेहरे पर पिम्पल्स होना हार्मोन्स में बदलाव, कब्ज, तनाव और अनियमित खानपान मुख्य कारण है। कई बार स्किन प्रॉब्लम के कारण मुहासे होते है। पिम्पल्स की समस्या आमतौर पर टीनएजर और महिलाओ में ज्यादा देखी जाती है। जो की हार्मोन्स में बदलाव के कारण होती है। कुछ घरेलू नुस्खों को अपना कर Pimples treatment at home किया जा सकता है।

पिम्पल्स मुँहासे होने के कारण (Causes of Pimples in hindi)

  •  हार्मोन्स बदलाव

शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलावों के कारण भी पिम्पल्स होने लगते हैं। खासकर महिलाओं को मासिकधर्म, गर्भावस्था और रजोनिवृति के समय शरीर मे होने वाले हार्मोनल बदलावों के कारण पिम्पल्स की समस्या ज्यादा होती है।

  •  कॉस्मेटिक का ज्यादा इस्तेमाल

कॉस्मेटिक यानी सौंदर्य प्रसाधनों का अधिक इस्तेमाल करने से भी पिंपल्स निकलने लगते हैं। कई बार महिलाएं पूरा दिन मेकअप में रहती है। और रात को ठीक से चेहरा साफ नहीं करने के कारण पिंपल्स हो जाते हैं।

  •  दवाओं के सेवन के कारण

कभी-कभी तनाव, मानसिक बीमारी और मिर्गी जैसी बीमारियों की दवाओं के सेवन से भी मुंहासे (Pimples) निकल जाते हैं।

  • अत्यधिक तनाव के कारण

लगातार तनाव रहने से भी पिंपल्स की समस्याएं होती है। इसकी वजह से शरीर में अंदरूनी बदलाव होते हैं। जिसके कारण पिंपल्स हो जाते हैं।

  • खानपान के कारण

जंक फूड, फास्टफूड, पैकेडफूड, अधिक मिर्च मसालों और तैलीय पदार्थों के ज्यादा सेवन करने से पिम्पल्स की समस्या उत्पन्न होती है। इसके अलावा कब्ज की समस्या रहने से भी कील मुहासों की समस्या होती हैं।

  • संक्रमण के कारण

चेहरे पर पिंपल्स होने का बेक्टिरिया मुख्य कारण होता है। क्योंकि मुंहासे जीवाणुओं की वजह से होते हैं। जिसके कारण चेहरे और शरीर पर लाल रंग के दाने निकल जाते हैं। जिनको छूने पर दर्द भी होता है।

  • पित्त व कफ दोष के कारण

मुहासे सामान्य पित्त व कफ दोष के असंतुलित होने के कारण होते हैं। यह दोष हमारी पाचन क्रिया कमजोर कर देता है। जिसके कारण पेट ठीक से साफ नहीं हो पाता व शरीर से विषाक्त तत्व बाहर नहीं निकल पाते और हमारे खून को विषाक्त कर देते हैं। जिसके कारण पिम्पल्स की समस्या होती है। यह पढ़ें~ कब्ज दूर करने के उपाय 

मुँहासे पिम्पल्स के लक्षण (Pimples symptoms in hindi)

चेहरे पर कील, मुंहासे, पिम्पल्स होने के लक्षण की बात करें तो इसके लक्षण चेहरे पर साफ दिखाई देते है लेकिन इसके मुख्य लक्षण है जैसे

  • त्वचा का लाल होना
  • छोटे छोटे लाल रंग के उभार का होना
  • पिले या सफेद रंग के पस के साथ त्वचा में उभार होना
  • त्वचा पर निशान का होना
  • व्हाइट हैट्स सफेद पस वाले उभार
  • ब्लैक हैट्स हल्का कालापन लिए उभार

चेहरे से पिम्पल्स हटाने के घरेलू उपाय (Pimples treatment at home in hindi)

एलोवेरा

एलोवेरा में पिंपल्स हटाने के गुण पाए जाते हैं। इसमें मौजूद एंटी बैक्टीरियल और एंटी इन्फ्लामेट्री गुण बैक्टीरिया के कारण होने वाले पिंपल्स को होने से रोकने के साथ-साथ चेहरे पर दाग धब्बे भी नहीं होने देता और सूजन को भी कम करता है। इसके अलावा एलोवेरा में पाया जाने वाला एंटीसेप्टिक गुण त्वचा पर बैक्टीरिया फैलने से रोकता है। मुहासों की समस्या होने पर एलोवेरा का ताजा पत्ता लेकर उसकी जैल को निकालकर चेहरे पर और पिंपल्स वाले हिस्सों पर लगाने से मुहांसों की समस्या से छुटकारा मिलता है। यह पढ़ें~ एलोवेरा के फायदे और नुकसान

नारियल तेल

इसके तेल में मौजूद विटामिन ई के साथ-साथ जीवाणु रोधी योगिक भी पाया जाता है। इसी कारण से नारियल तेल का इस्तेमाल पिम्पल्स हटाने के साथ-साथ चेहरे पर पड़ने वाले दाग धब्बे और झुर्रियों के इलाज के रूप में किया जाता है। इसके अलावा यह तेल त्वचा को मॉश्चराइज करके मुलायम व स्वस्थ रखता है। और स्किन इन्फेक्शन से बचाने में मदद करता है। मुहासों से छुटकारा पाने के लिए शहद के साथ कुछ बूंदे नारियल तेल की मिलाकर इसकी मालिश चेहरे पर नियमित करने से लाभ मिलता है।

हल्दी

हल्दी का प्रयोग पिंपल्स हटाने के इलाज में काफी मददगार होता है। इसमें एंटीसेप्टिक हीलिंग और एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। इसके अलावा हल्दी में करक्यूमिन भी पाया जाता है। जो एंटी इन्फ्लेमेटरी के साथ एंटीमाइक्रोबियल गुण प्रदर्शित करता है। हल्दी और शहद को मिलाकर पेस्ट बनाकर इसको चेहरे पर लगाने से पिंपल्स वह मुहांसों को ठीक करने में मदद मिलती है।

मुल्तानी मिट्टी

पिंपल्स के लिए मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग वरदान है। स्किन से गंदगी हटाने और अत्यधिक तेल हटाने में यह बेहद ही कारगर होती है। पिम्पल्स, झुर्रियां, दाग धब्बे, फोड़े फुंसी, आदि समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए मुल्तानी मिट्टी को चार घंटे गुलाब जल में भिगोकर छोड़ दें। और नहाने से पहले इसमें थोड़ा-सा नींबू का रस मिलाकर इसको चेहरे और शरीर पर लेप करके आधा घंटा बाद स्नान करना चाहिए। इस मिश्रण का कुछ दिन नियमित प्रयोग करने से पिंपल्स की समस्या से छुटकारा मिलता है।

नीम

मुहासों की समस्या से निजात दिलाने में नीम एक प्रभावी औषधि है। इसमें एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। नीम को पीसकर उसका पेस्ट तैयार करके इसमें नींबू का रस और शहद मिलाकर इसे रोजाना चेहरे या पिंपल्स वाली जगह पर लगाने से पिंपल्स की समस्या से छुटकारा मिलता है। इसके अलावा नीम की पत्तियां और कच्चे फल पानी में उबालकर इससे चेहरा धोना भी मुहांसों से छुटकारा दिलाता है।

अरण्डी का तेल

कैस्टर ऑयल (अरंडी का तेल) स्किन की गंदगी को साफ करने में मदद करता है। साथ ही यह तेल त्वचा संबंधी समस्याओं से स्किन को स्वस्थ और मुलायम बनाने का काम करता है। इसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी  और एंटीमाइक्रोबियल गुण पाए जाते हैं। मुंहासों की समस्या होने पर अरंडी का तेल और एलोवेरा जेल मिलाकर चेहरे पर लगाएं और सूख जाने के बाद गुनगुने जल से चेहरा धो लें। यह प्रयोग नियमित करने से पिंपल्स की समस्या छुटकारा मिलता है।

लहसून

यह भी मुंहासे की समस्या में कारगर होता है। इसमें एलीसिन होता है। जो एंटीबैक्टीरियल की तरह काम करता है। यह त्वचा में बैक्टीरिया पनपने से रोकता है। लहसुन का पेस्ट बनाकर इसमें शहद और गुलाब जल मिलाकर चेहरे पर लगाने से मुंहासे ठीक हो जाते हैं। यह पढ़ें ~ त्वचा रोग का घरेलू इलाज

FAQ

Q  1. पिंपल्स किसकी कमी से होते हैं?

Ans  आमतौर पर चेहरे पर पिंपल्स निकलने की समस्या टीनएज से जोड़कर देखी जाती है। क्योंकि इस उम्र में शरीर में तेजी से हार्मोनल बदलाव होते रहते हैं। इस कारण हार्मोन्स लेवल डिस्टर्ब होने पर स्किन पर पिंपल्स आने लगते हैं जो शुरुआत में तो यह किसी छोटे दाने या उभार की तरह महसूस होते हैं। लेकिन धीरे-धीरे यह बढ़ते जाते हैं और चेहरे की रंगत बिगाड़ देते हैं।

Q 2. पिंपल्स को जड़ से खत्म करने के लिए क्या करें?

Ans  पिंपल्स की समस्या से छुटकारा पाने के लिए गुलाब जल में थोड़ी सी हल्दी मिलाकर पेस्ट बना लें और इसको पिंपल्स वाली जगह पर लगा कर रात भर के लिए छोड़ दें सुबह उठने के बाद चेहरे को साफ पानी से धो लें। इससे धीरे-धीरे पिंपल और पिंपल के निशान गायब होना शुरू हो जाते हैं। इसके अलावा चेहरे पर शहद की मसाज करने से भी पिंपल्स की समस्या से छुटकारा पाने में मदद मिलती है क्योंकि शहद में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं।

Q 3. चेहरे पर पिंपल हो तो क्या नहीं खाना चाहिए?

Ans  चेहरे पर पिंपल्स की समस्या से राहत पाने के लिए डेयरी उत्पाद का सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए। अगर पिंपल्स की ज्यादा समस्या हो तो इनका सेवन नहीं करना चाहिए।

Q 4. पिंपल्स होने का क्या कारण है?

Ans यह समस्या ज्यादातर ऑयली स्किन में होती है क्योंकि ऑइली स्किन पिंपल्स को जन्म देती है। इसके अलावा ज्यादा धूम्रपान करने शराब का अधिक सेवन करने से भी पिंपल होते हैं इसके अलावा कुछ लोगों में पिंपल्स की परेशानी समस्या जेनेटिक भी हो सकती है दवाओं की ज्यादा सेवन से भी पिंपल्स हो सकते हैं।

इस आर्टिकल में दी गई तमाम जानकारियों को सूचनात्मक उद्देश्य से लिखा गया है। अतः किसी भी सुझाव को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श अवश्य कर लेवें।

यह लेख पिम्पल्स हटाने के घरेलू उपाय | Pimples treatment at home | in hindi  आपको कैसा लगा Comment करके जरूर बताएं और Share करें।

इन्हें भी पढ़ें-

Leave a Comment